गूगल ने शुरू की टाईम मशीन! आप अनुभव नहीं लेंगे?

ज़िंदगी के मेले

गूगल ने अब अपनी मुफ्त, बेहतरीन सेवायों की सूची में एक और सेवा जोड़ी है और इसे नाम दिया है टाईमलाईन।

गूगल का वर्चस्व मूल तौर पर इंटरनेट की दुनिया पर ही है और यहाँ भी उसकी यह सेवा इंटरनेट से ही संबधित है। अपने विश्वप्रसिद्ध सर्च इंजिन की तर्ज पर ही इस सेवा का उपयोग किया गया है लेकिन एक अलग अंदाज में।

Google News Timeline वस्तुत: खोज परिणामों को एक कालक्रम (chronologically) में संयोजित करने वाला वेब अनुप्रयोग है. यह उपयोगकर्ताओं को ग्राफिकल समय पर समाचार और अन्य डेटा स्रोतों को देखने की अनुमति देता है. ऐतिहासिक और हाल ही की खबरें उपलब्ध कराता है, समाचार पत्र और पत्रिकाएं स्कैन करता है, ब्लॉग पोस्ट, खेल स्कोर, संगीत एल्बमों और फिल्मों की तरह के मीडिया के विभिन्न प्रकारों के बारे में जानकारी देता है।

इसका नेवीगेशन बेहद आसान है। Google News Timeline की साईट पर जाईये। ड्रॉपडाऊन मीनू से अपनी पसंद का विषय चुने, सामने अपना खोज शब्द डाल कर एंटर दबा दें या Add Query पर क्लिक कर लें। आवश्यकता पड़े तो वाले ड्रॉप डाऊन मीनू से दिन, सप्ताह, माह, वर्ष या दशक चुन लें।

चाहें तो उसके बाद वाले खाली आयत में मनचाहा वर्ष, माह आदि लिख कर सीधे Go क्लिक कर लें। जो परिणाम सामने आते हैं, दांयीं ओर ताजा परिणाम होंगे और बांयीं ओर ऐतिहासिक। उसे आप दोनों ओर दिये गये तीर के निशान पर क्लिक कर खिसका सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।

मैंने अपने शहर Bhilai की खबरों के लिए इसका प्रयोग किया और नतीजे संतोषजनक ही आये।

अपने मूल पृष्ठ पर इसमें Wikipedia Events तथा Time Magazine के परिणाम शामिल है। आप चाहें तो इन्हें हटा भी सकते हैं। फिलहाल इसमें अंग्रेजी भाषा के परिणाम आते हैं और यह मान कर चला गया है कि इसे अमेरिका में उपयोग किया जाता है।

है न यह टाईम मशीन?

अपडेट@जून 2012: गूगल ने अब यह सेवा बंद कर दी है

गूगल ने शुरू की टाईम मशीन! आप अनुभव नहीं लेंगे?
लेख का मूल्यांकन करें
Print Friendly, PDF & Email

मेरी वेबसाइट से कुछ और ...

10 thoughts on “गूगल ने शुरू की टाईम मशीन! आप अनुभव नहीं लेंगे?

  1. बहुत शानदार सेवा जिस की बहुत आवश्यकता थी।

  2. साइट तो आकर्षक लग रही है। आप दूर की कौड़ी लाये पाबला जी।

  3. असीं दाल रोटी वाले अदमी..
    कोई अग्गे लै जाण वाली मशिन बनी ऎ, ते दस्सों !

    खैर, मज़ाक अलग की बात है,
    मेरे लिये तो यह केवल चमत्कृत होने भर की उपयोगिता रखता है !

  4. मैंने इस टूल पर भोपाल गैस त्रासदी की खबरें पढ़नी चाहीं, लेकिन समझ में नहीं आया कि इसे कैसे उपयोग में लाया जाये। शायद कुछ समय लगेगा इसे सीखने में। फिर भी जानकारी के लिये धन्यवाद!

  5. शानदार सेवा की जानकारी देने के लिए आपका आभार।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ
Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
[+] Zaazu Emoticons