पुरानी टिप्पणियों की संख्या एकाएक कम क्यों दिखने लगीं हैं!?

पिछले सप्ताह दो दिन मुझे अस्पताल में बिताने पड़े। मामला कुछ गंभीर नहीं था, बस नियमित स्वास्थ्य जांच के बाद ऐसी कुछ ज़रूरत बताई थी डॉक्टरों ने। इसी अवधि में कई ब्लॉगरों के फोन आते रहे दो-तीन समस्याओं को लेकर। इन्हीं समस्याओं पर फोन, ईमेल अभी भी आ रहे हैं।

आजकल जो मुख्य समस्या है ब्लॉगस्पॉट पर, वह है कुछ विज़ेट्स पर टिप्पणियों के आंकड़ों में गिरावट दिखाई देना, जबकि वास्तविक टिप्पणियों की गणना बिल्कुल दुरूस्त है। किसी ब्लॉग पर यदि टिप्पणियाँ 1000 हैं तो इस समस्या के कारण 150-200 दिखाई देती है। किसी ब्लॉगर साथी की समस्या यह भी है कि कमेंट मॉडेरेशन में आई टिप्पणियाँ प्रकाशित कर देने के बाद भी बताया जाता रहता है कि अभी टिप्पणियाँ बाकी हैं प्रकाशित करने के लिए!!
मैंने उन मित्रों को भी बताया था और यहाँ भी बता रहा हूँ कि यह एक तकनीकी समस्या है ब्लॉगस्पॉट की, जिसके बारे में गूगल की स्वीकारोक्ति भी 7 मार्च को आ चुकी है कि

Some users are experiencing comment count discrepancies on their blog, specifically for older comments during the December-January timeframe. We have isolated the underlying problem though, and are working to release a fix shortly.

जैसा कि बताया गया है, गूगल ब्लॉगस्पॉट की टीम इस समस्या पर कार्य कर रही है, जल्द ही इसके ठीक हो जाने की उम्मीद मैं भी कर रहा हूँ, आखिर टिप्पणियों के बड़े आंकड़े किसे अच्छे नहीं लगते!

कहीं आप भी इसी समस्या से तो परेशान नहीं थे?
पुरानी टिप्पणियों की संख्या एकाएक कम क्यों दिखने लगीं हैं!?
1 (20%) 1 vote
Print Friendly, PDF & Email

Related posts

15 Thoughts to “पुरानी टिप्पणियों की संख्या एकाएक कम क्यों दिखने लगीं हैं!?”

  1. Gagan Sharma, Kuchh Alag sa

    यह समस्या तो आनी-जानी है। आप अब कैसे हैं बताईये?

  2. Udan Tashtari

    आशा है स्वास्थय बेहतर होगा..अनेक शुभकामनाएँ.

  3. राज भाटिय़ा

    पावला जी आप दो दिन नही आये इस लिये यह गुगल वाले भी हेरा फ़ेरी करने लगे, कोई बात नही जी, पहले आप अच्छी तरह से ठीक हो जाये, हमारी शुभकामंनाये जी आप के संग

  4. रौशन जसवाल विक्षिप्त

    टिप्पणी की स्मस्या मेरे साथ भी आई है क्या करें?अब आपका स्वास्थ्य कैसा है ? कुछ लिया क्या? अपना ध्यान रखें!

  5. Suresh Chiplunkar

    टिप्पणियों पर तो ध्यान नहीं गया, लेकिन बीच-बीच में कभीकभार मेरे सब्स्क्राइबर्स की संख्या अचानक कम दर्शाता है, फ़िर अपने-आप ठीक भी हो जाती है। तकनीकी समस्या से तो गूगल को भी चैन नहीं है… आप स्वस्थ हों बस 🙂

  6. पं.डी.के.शर्मा"वत्स"

    ये समस्या तो हमारे साथ भी है लेकिन कोई टैंशन नहीं…हो जाएगी ठीक। काहे को चिन्ता करनी!
    बाकी आप अपने स्वास्थय की ओर ध्यान दें…

  7. संगीता पुरी

    जब गूगल ने भी स्‍वीकार किया तो समस्‍या तो रहेगी ही .. चिंता क्‍यूं करनी .. आप पहली प्राथमिकता स्‍वास्‍थ्‍य को दें !!

  8. गिरिजेश राव

    स्वस्थ होइए महराज ! मैंने तो टिप्पणियों की संख्या बताने वाला कोड ही मिटा दिया ।

  9. अजय कुमार झा

    सर एक बात और बताईये तो ये गूगल बाबा और आपकी तबियत एक साथ …..
    चलिए गूगल बाबा को मारिए गोली आप ठीक हो जाईये … 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 🙂 देखिए कितनी मुस्कुराहटें लगा दी हैं …मगर सब की सब लैटिनिया जाएंगी

    अजय कुमार झा

  10. डॉ महेश सिन्हा

    आराम बड़ी चीज है मुह ढ़क के सोइए . कहावत है , वैसे मुह ढ़क के नहीं सोना चाहिए .

    आपके उत्तम स्वास्थ्य के लिए शुभम .

  11. venus kesari

    समस्या हमारे ब्लॉग पर भी है पहले भी आई थी फिर १ मही बाद खुद सही हो गई अब तो इंतज़ार है एक दिन वो आये जब ये समस्या भी खुद निपट जाए 🙂

    आपने बता दिया कि

    ""मामला कुछ गंभीर नहीं था,""

    इस लिए नो फिकर 🙂

  12. RaniVishal

    आदरणीय,
    यह समस्या मेरे साथ भी हुई जब मेने टेम्पलेट बदला तभी से …बाद में पता चला और भी कई ब्लॉग है जहाँ ऐसा हो रहा है ! ब्लॉगर पर यह शिकायत आम है कही कही यही जावा स्क्रिप्ट ठीक से काम कर रही है और कही कही नहीं, समस्या कोड में नहीं है सरवर से होजाती है शायद ! हो सकता है थोड़े समय के बाद ठीक से काम करने लगे!
    आपके उत्तम स्वस्थ्य के लिए शुभकामनाए.. सादर
    रानीविशाल

  13. Sanjeet Tripathi

    jald hi pure taur par swasth ho jayein, yahi shubhkamnayein hain

  14. Amit Kumar

    सुन्दर प्रस्तुति….बधाई !!
    ______________
    सामुदायिक ब्लॉग "ताका-झांकी" (http://tak-jhank.blogspot.com)पर आपका स्वागत है. आप भी इस पर लिख सकते हैं.

  15. कमलेश वर्मा

    भ्राजी..गेट वैल सून…

Leave a Comment

टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ
Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)

[+] Zaazu Emoticons