फेसबुक को पोर्न साईट में बदलने की तैयारी!?

कम्प्यूटर सुरक्षा

अगर आप फेसबुक का इस्‍तेमाल कर रहे हैं तो एक बार फिर सावधान हो जाइए। इस समय फेसबुक पर दुबारा ऐसा वायरस लोगों के खाते हैक कर रहा है जिस वजह से उनकी प्रोफाइल में अश्लील सामग्री दिखाई दे रही है। इस बार लगभग 45 हजार लोगों के एकाउंट में यह वायरस घुस चुका है और बड़ी तेजी से फैल रहा।

हाल ही में एक इंटरनेट सिक्‍योरिटी फर्म Seculert ने एक रिपोर्ट पेश की है जिसमें बताया गया है कि Ramnit नाम का एक वायरस लोगों के फेसबुक एकाउंट में घुसकर उसमें अश्‍लील सामग्री फैला रहा है। इस अश्‍लीलता से बचने के लिए फेसबुक इस्तेमाल करने वाले अपना खाता ही बंद कर रहे हैं।

facebook worm

केवल अमेरिका में ही 31 हजार फेसबुक उपयोग करने वालों के एकाउंट में अभी तक यह वायरस घुस चुका है। यह वायरस लोगों के एकाउंट का पासवर्ड हैक कर रहा है और फिर उसमें अश्‍लील और डरावनी फोटो व वीडियो डाउनलोड कर रहा।

फेसबुक पर फैल रही इस अश्‍लीलता के बारे में बताने के लिए लोग धड़ाधड़ ट्विटर का इस्‍तेमाल कर रहे हैं और फेसबुक के बारे में लिख रहे हैं कि यह सोशल नेटवर्किंग साइट अब पॉर्न साइट में तब्‍दील हो गई है।

ऐसी अफ़वाहें भी हवा में तैरने लगीं हैं

कि कुछ हैकर समूह फेसबुक से सीधे ‘युद्ध’ ना जीत पाने की वज़ह से इस तरह का परोक्ष नुकसान पहुँचाना चाहते हैं।

फेसबुक ने इस वायरस के बारे में पता लगाने के प्रयास तेज कर दिए हैं। इस वायरस का पता पिछले साल अप्रैल में चला था। विशेषज्ञों का कहना है कि फेसबुक को इस समस्‍या का जल्‍द ही समाधान निकालना चाहिए क्योंकि यह वायरस तेजी से लोगों के एकाउंट हैक कर रहा है।

इस बार दिक्कत यह भी हो रही कि एक बार फेसबुक का पासवर्ड चुरा कर हैकरों द्वारा उसी पासवर्ड को संबधित व्यक्ति की दूसरी ऑनलाईन सेवायों में इस्तेमाल करने के मामले भी सामने आ रहे। क्योंकि आम इंटरनेट उपयोग करने वाला व्यक्ति एक ही पासवर्ड को फेसबुक, जी-मेल, लिंक्डइन, ऑनलाईन बैंकिंग आदि में लागू कर रखता है। सोचता है कौन ढ़ेर सारे पासवर्ड याद रखे।

अब करना क्या है ये तो खुद ही जानो! क्योंकि खाता है आपका, पासवर्ड है आपका, दीवानगी है आपकी और मर्जी है आपकी।

फेसबुक को पोर्न साईट में बदलने की तैयारी!?
लेख का मूल्यांकन करें
Print Friendly, PDF & Email

मेरी वेबसाइट से कुछ और ...

37 thoughts on “फेसबुक को पोर्न साईट में बदलने की तैयारी!?

  1. सही बात है कौन अलग अलग पासवर्ड याद रखता है पर अपने पास तो १ टीबी की हार्डडिस्क है दिमाग में और सभी अकाऊँट के अलग अलग पासवर्ड रखकर याद भी रखते हैं। आजकल इसी चक्कर में फ़ेसबुक पर जाना कम हो गया है, अभी तो हम ट्विटर से भी परेशान हैं, पता नहीं कैसे हमारे ट्विटर एकाऊँट से कोई ट्विट कर रहा था, खैर अभी पिछले ३-४ दिनों से ठीक है।

  2. पर यह भी सत्य है कि अगर लोग खुद थोडा सचेत रहे तो इस हमले से बचा भी जा सकता है … यह जरुरी तो नहीं कि हर लिंक को खोल कर देखा जाए … है कि नहीं ???
    टिप्पणीकर्ता Shivam Misra ने हाल ही में लिखा है: स्नान और ब्लॉग बुलेटिन से मिलती है ताजगीMy Profile

    1. Sad
      चिंता की बात यही है शिवम जी
      इस तरह के वायरस के लिए किसी लिंक को क्लिक करने की ज़रूरत नहीं ये तो घुसपैठिया है! आप ना भी चाहो …

  3. बढिया जानकारी।
    वैसे इस तरह के लिंक्‍स को क्लिक करने पर ही शायद ऐसी परेशानी होती होगी। इससे बचना चाहिए।
    टिप्पणीकर्ता अतुल श्रीवास्‍तव ने हाल ही में लिखा है: अध्‍ययन यात्रा बनाम दारू पार्टी…. !!!!!My Profile

  4. हम तो कभी-कभी जाते हैं,एक डिस्क्लेमर तो लगा ही दिया जाय कि जो गन्दा है,वह कंटेंट मेरा नहीं है !
    टिप्पणीकर्ता संतोष त्रिवेदी ने हाल ही में लिखा है: विज्ञान सेमिनार में ब्लॉगर-मिलन !My Profile

  5. इसका मतलब फेसबुक ने सब की छुट्टी कर रखी है ।
    पर कितना वाहियात है यह सब ।
    हमने खाता तो खोला है लेकिन कभी बंद कर देते हैं कभी फिर चालू ।

  6. एक बार मैं भी इस चक्कर में फँस गया था. एक लिंक था जो माउस रोल करते समय क्लिक हो गया और जितने फ्रेंड लिस्ट में थे, सब पर पहुँच गया. भला हो मेरे एक मित्र का जिन्होंने तुरंत ही बता दिया.

  7. आदरणीय पाबला जी,
    मेरे एक मित्र का मोबाइल चोरी हो गया है इसमें उनके कार्य संबंधी जरूरी चीजें भी हैं |
    इसमें जी पी एस , जी पी आर एस सुविधाएं एक्टिवेटेड है , फिलहाल फ़ोन स्विच ऑफ़ है |
    क्या आप बता सकते हैं की इस फोन को किसी भी तरह ट्रेक किया जा सकता है ?
    इस मामले आप कोई भी जानकारी दे सकें तो बड़ी मेहरबानी होगी |

    आभार आपका

  8. ये सच है. और कुछ लोग नकली प्रोफाइल बनाकर भी अश्लील सामग्री डालते है. प्रोफाइल फोटो भी नंगा रखते है.

  9. भाई जी मैं भी इसको झेल चुका हू.इसका कोई इलाज नहीं है.सावधानी रखे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ
Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
[+] Zaazu Emoticons