शाहरूख खान बनेंगे, पाबला परिवार के पड़ोसी !?

हमारे सुपुत्र कल शाम रवाना हुए थे भोपाल के लिए। डोंगरगढ़ के पास ट्रेन का इंजिन खराब हो गया। ज़नाब को देर हो गई दो घंटे की। सुबह पहुँचने की सूचना दी तो चहकने भी लगे कि शाहरूख खान मेरे घर के पास रहने का जुगाड़ कर रहे!मैं भी चकराया कि मज़ाक में भी सच बोलने वाले को क्या हो गया? भोपाल की कौन सी हवा लग रही उसे? लेकिन जब बात खुली तो हम दोनों ही ठहाका मारने की होड़ में लग गए।

हुया यह कि उसने किसी अखबार में खबर पढ़ ली “चांद पर होगा शाहरूख का आशियाना!” खबर में था कि बॉलीवुड के शाहरूख खान चांद पर अपना आशियाना बना सकते हैं। खुद शाहरूख ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि उनके पास चांद पर जमीन है और चांद पर उनके लिए खरीदी गई जमीन की तस्वीरें और अन्य दस्तावेज भी उन्हें उपलब्ध कराए जा चुके हैं। इस खरीदी के सर्टिफिकेट भी उन्हें मिल चुके हैं।

बस फिर क्या था! सुपुत्र गुरूप्रीत का कहना था कि मेरे पास तो तीन साल पहले से ही चांद पर खरीदी गई ज़मीन के कागज़ात और जमीन का नक्शा है। शाहरूख तो अब मेरे पड़ोस में रहने का जुगाड़ जमाने के लिए अभी चांद पर जमीन के मालिक बन रहे।

moon pabla

menari बात बेशक मौज़ लेने की हो लेकिन यह सत्य है कि मेरे सुपुत्र के लिए चांद पर पहले पहल एक एकड़ ‘ज़मीन’ ली गई थी। उसके बाद वह पता नहीं खुद कितनी बार और ले चुका है। सभी के नक्शे व दस्तावेज़ भी मौज़ूद हैं। इस घटनाक्रम के बारे में तीन वर्ष पहले समाचारपत्रों में भी समाचार आ चुका है।

जमीन के जो कागज़ात उसे प्राप्त हुए हैं उनमें लिखा गया है कि चन्द्रमा की सतह के नीचे 4 किलोमीटर व ऊपर 10 किलोमीटर तक पाये जाने वाले ठोस, द्रव, गैस पर उस जायदाद के मालिक का हक़ होगा।

moon pabla

वैसे चांद पर जायदाद लेने वालों में दो भूतपूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन व जिमी कार्टर, नासा के अनेकों वैज्ञानिक, हॉलीवुड के कई सितारे भी हैं। जर्मनी में अमृतसर-मूल के हरज़िंदर सिंह, हैदराबाद के राजीव बागड़ी, चंडीगढ़ के श्रीमती श्री रमेश शर्मा, भोपाल के श्रीमती श्री राजविन्द आहलूवालिया, विजयवाड़ा के कमलेश जैन (अहा! ज़िंदगी, जुलाई 2005, पृष्ठ 28) भारत के पूर्व राष्ट्रपति ए पी जे अब्दुल कलाम भी चांद पर जमीन के मालिक हैं।

अब इसमें शाहरूख खान का नाम भी जुड़ा हुया बताया जा रहा।

:nggaya:देखते हैं, आने वाले समय में पाबला परिवार का पड़ोसी कौन होगा!

शाहरूख खान बनेंगे, पाबला परिवार के पड़ोसी !?
लेख का मूल्यांकन करें
Print Friendly, PDF & Email

Related posts

27 Thoughts to “शाहरूख खान बनेंगे, पाबला परिवार के पड़ोसी !?”

  1. दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi

    बधाई! पाबला परिवार को!

  2. sada

    पाबला जी,
    यह तो बहुत ही अच्‍छी खबर है, और जिसके लिये आपके पूरे परिवार को बधाई एवं शुभकामनायें ।

  3. कुलवंत हैप्पी

    बधाई हो…चांद पर जमीं खरीदने के लिए। पर ये सौदा कितने में हुआ।

  4. संजीव तिवारी .. Sanjeeva Tiwari

    बधाई हो. चंद्रमा से ब्‍लागिंग … सुखद स्‍वप्‍न है जी. जब आप शिफ्ट हो जांयेंगें तो हम भी बाअधिकार वहां जा पायेंगें इस बात की दुहरी खुशी है. ढेरों बधाईयां.

  5. ललित शर्मा

    वाह वाह पावला जी-मै भी सोच रहा था कई दिन से चांद पर बसने के लिए-लेकिन वहां पर पानी नही था-बिन पानी सब सून्। लेकिन अब रहा जा सकता है पानी मिल गया है-वैसे भी ये धरती रहने के लायक नही रही-ट्रैफ़िक भी ज्यादा हो गया है-अब वहां पर बहुत जगह है-आप वही से ब्लागिग करना, मै सड़क बनाने का ठेका ले लुंगा और मै खोलुंगा एक ढाबा-बार,अपने को तो मुफ़्त मे मि्लेगी-फ़िर जिन्दगी के मेले वही लगेगें-
    अस्सी और तुस्सी,
    पिवान्गे लस्सी
    बधाइ हो

  6. अंशुमाली रस्तोगी

    अगर सब ठीक रहा तो अपनी जमीन भी आपके ही बगल मे होगी।

  7. डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक

    बधाई हो जी!
    आपके सौजन्य से हम भी उनसे रूबरू हो जायेंगे।
    कभी न कभी!

  8. संगीता पुरी

    बधाई हो !!

  9. शिवम् मिश्रा

    मेरे ख्याल से बधाई तो शाहरुख़ को दी जानी चाहिए ………. हमारे पाबला जी कोई कम मशहूर है क्या ????????
    किसी को कोई शक ???

  10. शिवम् मिश्रा

    पाबलाजी,
    सत् श्री आकाल ! आप नू ते आपके परिवार नू प्रकाश पर्व दी लाख लाख बधाई होवे !!

    बस सरजी, इतनी ही पंजाबी आती है, आज सुबह ४ बजे ही लौटा हूँ सो सब मेल और ब्लॉग check कर रहा हूँ !

  11. vinay

    पावला जी चाँद पर जा कर चाँद के पार भी,देखेगें,मुझे तो पाकीजा का गाना याद आ रहा है,चलो दिलदार चलो,चाँद के पार चलो,बस बधाई आपको और आप के सुपुत्र को ।

  12. कार्तिकेय मिश्र (Kartikeya Mishra)

    ये हुई न बात।

    देखते हैं अगर सेकेंड हैंड कोई बेच रहा हो तो सस्ते दाम पर हम भी एकाध डिस्मिल खूंटा गाड़ने के वास्ते ले लें।

  13. अजय कुमार झा

    सर गलत बात है पूरी खबर बताया किजीये..लगता है गुरप्रीत ने अपको बताया नहीं..दरअसल खबर ये है कि गुरप्रीत उस जमीन पर जो भी बिल्डिंग बनाएंगे…वो एक ब्लोग्गर को किराए पर दिया जाएगा..कुछ ..झा जी.. करके नाम है उनका…अंदेशा है कि //इस आवंटन् के लिये झा जी ने ..गुरप्रीत के पिताजी का चेला होने का लाभ उठाया है…इससे आगे की खबर को गुप्त रखा गया है…

  14. पं.डी.के.शर्मा"वत्स"

    वाह्! पाबला जी बडे कमाल की खबर सुनाई !
    बधाई हो!!

    कोई सूर्य पर प्लाट बेचने वाला हो तो बताईये…सोचते हैं कि बच्चों के लिए लेकर रख दें 🙂

  15. शरद कोकास

    पाबला जी यह ज़रूर पता लगा लें कि वहाँ पर की गई ब्लॉग पोस्ट धरती पर दिखाई देगी या नहीं यदि हाँ तो फिर कोई हर्ज़ नहीं । हम तो बेटे (चान्द ) के पास रहने के बजाय माँ (धरती ) के पास रहेंगे । हाँ कभी कभी अपने यान पर आपसे मिलने आ जाया करेंगे ।

  16. राज भाटिय़ा

    पाबलाजी,
    सत् श्री आकाल ! भाई कभी कभी हमारे ठेले पर भी खाना खाने के लिये आ जाया करे, मै तो सब कुछ छोड छाड कर वापिस आने वाला था, लेकिन आप की इस पोस्ट ने फ़िर से हिम्मत बडा दी.
    आप का धनयवाद

  17. Udan Tashtari

    बधाई! पाबला परिवार को!

  18. 'अदा'

    क्या पाबला साहब….
    बहुत बहुत बधाई…चाँद पर ज़मीन मिली आपको…
    लेकिन..जब तक चाँद पर जायेंगे तब तक हम सबके 'चाँद' भी नहीं बचेंगे…..अब आपके 'चाँद' की हम क्या जाने हर वक्त उसपर पगड़ी का साया जो रहता है….लेकिन हम आपको बता दें की शाहरुख़ हमारे पडोसी रह चुके हैं….जब वो सफदरजंग एन्क्लेव, हौज़ खास .. में रहते थे अपने माता-पिता के साथ …..उसके पिता DDA में मुलाजिम थे …..मैं भी अपनी मामी जी के पास रहती थी २२२ सफदरजंग एन्क्लेव हौज़ खास में और वो भी DDA में मुलाजिम थी..उस समय तक उन्हें फौजी में काम नहीं मिला….वो mass communication research center , jamia millia islamia ..okhla में स्टुडेंट थे और मैं वहाँ…apprentice …..फौजी में रोल भी उन्हें वहीँ मिला और बॉलीवुड से फ़ोन कॉल भी MCRC में ही आया था…..मुझे याद फौजी में वो इतने व्यस्त हो गए थे कि उनका attendance पूरा नहीं था परीक्षा में बैठने के लिए और तब उन्हें परीक्षा देने की अनुमति नहीं मिली थी….अब तो वो शायद न पहचाने लेकिन….हम पडोसी भी रह चुके हैं ….और colleague भी…

  19. हिमांशु । Himanshu

    गजब की खबर । बधाई ।

  20. Raviratlami

    वैसे तो, बधाई, मगर आपने शायद ये पढ़ा हो –

    http://www.space.com/scienceastronomy/mystery_monday_040202.html

    तथा ये भी –
    http://www.spacefuture.com/archive/lunar_real_estate_buyer_beware.shtml

    एक विवरण ये भी है-
    http://moonsayles.net16.net/

  21. wow Uncle ji… congratulations first…
    n then we r happy to have a new contact addressed as “MOON” instead of “EARTH” … 🙂
    par address kuch zyada bada ho jayega lagta hai… 😛
    टिप्पणीकर्ता Pooja ने हाल ही में लिखा है: कल भी मंत्री, कल भी मंत्री…My Profile

  22. रुचिकर। भई हमारा तो चाँद पर काम नहीं चल सकता। ऑक्सीजन बिना काम चल जायेगा पर ब्रॉडबैंड बिना नहीं।

  23. बधाई.
    घुघूतीबासूती

  24. कभी सुरज पर आये वही बनायेगे अपना अग्निमहल
    टिप्पणीकर्ता dhiru singh ने हाल ही में लिखा है: बिना शीर्षकMy Profile

  25. ये ज़मीनें कहाँ बिकती हैं और कैसे और क्या तरीका है इन्हें खरीदने का कृपया बताएं |
    टिप्पणीकर्ता Tushar Raj Rastogi ने हाल ही में लिखा है: चाँद पूनम काMy Profile

Leave a Comment

टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ
Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)

[+] Zaazu Emoticons