हिन्दी ब्लॉगिंग को समर्पित 11 वेबसाईट्स आ रही हैं 2011 में

पिछले वर्ष अनायास ही इतने पारिवारिक हादसे हुए कि तमाम योजनाएँ धरी की धरी रह गईं। अब पुन: स्फूर्ति आई है तो हिन्दी ब्लॉगिंग को केन्द्र में रख कर किए जाने वाले कार्यों से अवगत करवाना चाहता हूँ आपको।

जैसी योजना है उसके अनुसार इस वर्ष 2011 में हिन्दी ब्लॉगिंग को समर्पित 11 वेबसाईट्स लाई जाएँगी। 2011 के प्रत्येक माह के भारतीय पर्व पर एक वेबसाईट। चूंकि जून में कोई प्रचलित पर्व नहीं है अत: इस माह को छोड़ कर 11 वेबसाईट्स। यह ऐसी वेबसाईट्स हैं जिनमें हिन्दी ब्लॉगरों के द्वारा प्रदत्त जानकारियों का उपयोग उन्हीं के द्वारा होगा। उपयोगकर्ता स्वयं भी इसमें योगदान कर सकेंगे।

इस कड़ी में मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ देते हुए इस वर्ष की पहली वेबसाईट ब्लॉग्स इन मीडिया www.BlogsInMedia.comकी सूचना देना चाहता हूँ।

बहुत पहले से हिन्दी चिट्ठाकारों के लेखों को समाचार पत्र-पत्रिकाएँ हिन्दी ब्लॉग लेखों को नियमित स्थान देने लगी हैं। ऑनलाईन पत्रिकायों के साथ-साथ अब रेडियो, टेलीविज़न पर भी हिन्दी ब्लॉगों को उद्धृत किया जाने लगा है। आप अभी तक अलग अलग ब्लॉग संकलकों के द्वारा विभिन्न ब्लॉगों तक जाते रहे होंगे किन्तु इस वेबसाईट द्वारा आप उन ब्लॉगों तक अपनी पहुँच आसान बना सकेंगे जिन्हें प्रिंट मीडिया, रेडियो, टेलीविज़न, वेब-पत्रिकाओं ने स्थान दे उनकी उपयोगिता सिद्ध की है। परिणामस्वरूप, हालिया परिदृष्य में, बेहतर हिन्दी ब्लॉगों की तलाश में संतुष्ट हुया जा सकेगा।

इस नए नवेले अनोखे ब्लॉग-एग्रीगेटर www.BlogsInMedia.com का स्वागत कीजिए जो केवल संचार माध्यमों में उल्लेखित हिन्दी ब्लॉगों का संकलन करेगा। यह निश्चित तौर पर अविवादित भी होगा क्योंकि ब्लॉग लेखक व एग्रीगेटर के मध्य आकलनकर्ता के रूप में मीडिया के अन्य कारक भी शामिल होंगे। इसी के साथ पुराना, प्रिंट मीडिया पर ब्लॉग चर्चा वाला ब्लॉग बंदकिया जा चुका है। यदि भूले भटके कोई वहाँ पहुँच भी जाए तो तकनीक उसे स्वत: ही इस नई वेबसाईट तक पहुँचा देगी।

Blogs In Media

इस लेख को लिखे जाते तक ब्लॉग्स इन मीडिया वेबसाईट में 2178 जानकारियाँ देते लेखों पर लगभग 2700 अखबारी कतरनें हैं जिन पर विभिन्न 32 समाचार पत्र-पत्रिकाओं द्वारा हिन्दी ब्लॉगरों की पोस्ट का उल्लेख ब्लॉगर का नाम/ ब्लॉग नाम/ ब्लॉग यूआरएल/ संदर्भ देते हुए किया गया है। इस प्रयास में यहाँ अंदाज़न 4000 हिन्दी ब्लॉग लेखों का संकलन हो चुका है। विश्वास कीजिए अभी भी 500 से अधिक अखबारी कतरनें और सैकड़ों संदर्भ, यहाँ अपना स्थान पाने की प्रतीक्षा में हैं।

ऐसा नहीं है कि इस वेबसाईट में एकाएक यह प्रचुर जानकारियाँ समाहित की गईं हैं। इसके पीछे 21 माह का व्यक्तिगत परिश्रम व विभिन्न ब्लॉगर साथियों ( सुश्री शेफ़ाली पांडे, प्रतिभा कटियार, प्रतिभा कुशवाहा, सर्वश्री अविनाश वाचस्पति, कुमारेन्द्र सेंगर, संजीव कुमार सिन्हा, प्रवीण त्रिवेदी, अजय कुमार झा, महेश सिन्हा, कृष्ण कुमार मिश्रा आदि) का सहयोग है। अजय कुमार झा आज भी सक्रिय हैं इस वेबसाईट पर।

कुछ शिकायतें है मुझे ब्लॉगर साथियों से। पहली बात तो यह कि कई ब्लॉगरों ने हिन्दी नाम वाले अपने ब्लॉगों का शीर्षक अंग्रेजी अक्षरों में लिख रखा है। जैसे कि:
Aag lagane wale.., Abhimanyu Gulati ,akhtar khan akela ,apne morche par ,Arun Rajnath Speaks ,arvind das ,badlaw ki taraf ,bal sajag ,CHHAMMAKCHHALLO KAHIS ,DR MINOCHA ,Ehsaas ,Faridabad Metro ,GORAKHH ,Hindi Blog Reporter ,Hindi Cinema ,Hindi TV Media ,Jai Jai Bharat ,kavitarawat ,KAVYA KUNJ ,Kiwi Yaatra ,mandi house ,MatruBhasha- ,meraashiyana ,mere sapane mere apne ,Mithila Samachar ,Moomal Yatra ,Nayaansukh ,nirajmani ,Orlando-Jhansi ,P C NIGAM ,Paigaam Dil Se ,Rainbow/इन्द्रधनुष,Rajsthani Songs.. ,ram ram bhai ,Satyameva.. ,Science Beyond… ,SHARDA ,Shilpa Shetty ,shubhi ki duniya ,SONU’S SAYERI ,sukhdeo sahitya ,surendra kishore ,Swantah Sukhay ,tarakash ,UDAY PRAKASH ,vardhmaan ,ViditSinha ,yuva ,

कई ब्लॉग ऐसे हैं जो पूर्णतया हिन्दी में लिखे जाते हैं लेकिन शीर्षक शुद्ध अंग्रेजी में हैं। जैसे कि:
Abhayaism ,Arun Rajnath Speaks ,BE THE CHANGE YOU WANT TO SEE ,Comic World ,Cricket Bonds like james Bond ,dear i always remember you ,Defence Review ,DENAP ,desires ,Heart Beat Songs ,Hindi Blog Reporter ,Hindi Cinema ,Hindi Science Fiction ,Hindi TV Media ,Hindustani Poetry ,India-the golden bird ,Interesting advances in science ,Just be who you are ,Kusum’s Journey ,let us ask ,Life Goes On ,love is life ,my own creation ,Myindia-Mycause ,naturica ,NAUGAMA ,Netaji Was Not Died on 18 Aug 1945 ,Nitish Speaks ,Rajsthani Songs.. ,Random Access ,Readers Cafe ,RTIC UP ,Science Beyond… ,The Mystery ,Spiritual Guide ,Spirituality-Science ,Star News Agency ,TechTouch ,THE BREAKING NEWS ,The Power of Truth ,Things through pics ,THOUGHT ,toc news ,Water at Large ,WOMAN WORLD ,Women’s Era ,World General Knowledge, yoursaarathi
मानता हूँ कि अभिव्यक्ति की कोई भाषा नहीं होती और यह सब व्यक्तिगत चुनाव होते हैं कि्न्तु अनुरोध तो कर सकता हूँ कि वे इन्हें देवनागरी से बदल लें

दूसरी बात यह कि कईयों ने अपने ब्लॉग पर पूर्व प्रकाशित आलेखों को प्रदर्शित करने वाला विज़ेट नहीं लगाया हुआ है। वह विज़ेट आम तौर पर Archive कहलाता है। इसे लगा लें, अधिक से अधिक दो मिनट लगेंगे।

तीसरी बात यह कि लगभग सभी ब्लॉगों पर उन्हीं ब्लॉगों पर किसी शब्द या वाक्यांश को तलाश कर किसी चाही गई पोस्ट तक पहुँच पाना संभव नहीं, जिसके फलस्वरूप उनका संदर्भ नहीं दिया जा सकता, लिंक नहीं बन पाती जो ब्लॉग के प्रचार, प्रसार, रैंकिंग में बेहद महत्वपूर्ण है। इस सुविधा के लिए यह छोटा सा कोड, कोई शीर्षक देते हुए विज़ेट के द्वारा उचित स्थान पर लगाया जा सकता है।

<form id=”searchThis” action=”/search” style=”display:inline;” method=”get”>
<input id=”searchBox” name=”q” size=”20″ type=”text”/> <input id=”searchButton” value=”Search” type=”submit”/>
</form>

चौथी बात यह कि कई ब्लॉगर अपने या किसी अन्य के ब्लॉग का उल्लेख किसी समाचारपत्र में किए जाने की जानकारी अपने तक सीमित कर लेते हैं। उसका पता भी नहीं लगता। कभी कभी इसे एक ब्लॉग तक ही सीमित कर दिया जाता है। कोशिश कीजिए वह जानकारी हम तक पहुँचाने की। मुफ़्त का ब्लॉग तो कभी भी बंद हो जाएगा। मानक संदर्भ बन चुकी यह www.BlogsInMedia.com वेबसाईट उसे संभाल कर रखेगी।

वेबसाईट जैसा कोई भी कार्य ना तो कभी पूर्ण होता है न ही सटीक होता है। www.BlogsInMedia.com में भी कई कार्य बाकी हैं। आप कुछ सुझा सकते हैं तो अवश्य बताईएगा।

अब बात की जाए इस वर्ष आने वाली अन्य 10 वेबसाईट्स की। इनमें प्रमुख हैं:

  1. चिट्ठाचर्चा: देश विदेश के विभिन्न ब्लॉगर-गैर ब्लॉगरों द्वारा हिन्दी ब्लॉगों का जायजा लेती यह वेबसाईट बहुत जल्द ही सामने होगी।
  2. ब्लॉग मंच: यह www.BlogManch.com हिन्दी चिट्ठाकारों के आपसी सहयोग से संचालित होने वाला वेबसाईट आधारित, एक ऑनलाईन फोरम होगा (लुप्त हो चुके अक्षरग्राम की परिचर्चा जैसा) । यह ऑनलाईन ब्लॉग मंच, हिन्दी ब्लॉगरों की विभिन्न तकनीकी समस्याओं, जिज्ञासाओं, मदद आदि का आपसी संवाद से निराकरण कर सकने में अपनी भूमिका निभाने का प्रयास करेगा।
  3. ब्लॉग गर्व: यह www.BlogGarv.com एक ऐसा ब्लॉग एग्रीगेटर होगा जिसमें विषय विशेष आधारित हिन्दी ब्लॉगों का संकलन किया जाएगा। इसमें ब्लॉग शामिल करवाने के लिए अनुरोध किया जाना आवश्यक होगा (ठिठकी हुई ब्लॉगवाणी जैसा) व विभिन्न क्षेत्रों के व्यक्तियों का एक समूह अनुरोधित ब्लॉग का आकलन कर शामिल किए जाने की अनुशंसा करेगा
  4. ब्लॉग धारा: यह www.BlogDhara.com एक ऐसा ब्लॉग एग्रीगेटर होगा जिसमें सामाजिक रूप से आपत्तिजनक माने वाले विषयों के अलावा हर तरह के हिन्दी ब्लॉगों का समावेश होगा। इसमें कोई भी व्यक्ति पंजीयन करवा कर स्वयं ही अपना ब्लॉग जोड़-हटा सकेगा (फिलहाल अनुपलब्ध चिट्ठाजगत जैसा)।
  5. अपनी तरह के एक अन्य प्रयास में एक ऐसी वेबसाईट आएगी जहाँ कोई भी व्यक्ति (ब्लॉगर या गैर ब्लॉगर) किसी ब्लॉग पोस्ट का उल्लेख लिंक दे कर सकेगा (इंडली सरीखा) । उस पर अपनी प्रतिक्रियाएँ भी दी जा सकेगी।
  6. जनमदिन की शुभकामनायों वाले, लोकप्रिय ब्लॉग को वेबसाईट में बदला जा रहा है। जिसमें ब्लॉगर स्वयं ही पंजीयन कर अपना डाटा दे अपनी खुशियाँ साझा कर सकता है। अन्य डाटा की सहायता से, एक तरह से यह ब्लॉगर डायरेक्टरी होगी। जिसमें विभिन्न संदर्भों के द्वारा किसी ब्लॉगर को तलाशा जा सकेगा।
  7. हिन्दी ब्लॉग जगत की विभिन्न तरह की खबरों, जानकारियों आदि पर आधारित वेबसाईट का कार्य प्रगति पर है।
  8. ब्लॉगरों के अतिरिक्त हिन्दी भाषी समाज के व्यक्तियों द्वारा स्वयं ही डोमेन लेकर वेबसाईट बनाए जाने की इच्छा होती है, लेकिन अंग्रेजी भाषा की वेबसाईट्स से उसे घबड़ाहट होती है। इसी मुद्दे पर केन्द्रित एक ऐसी वेबसाईट पर कार्य प्रारम्भ होने वाला है जिसका पूरा ताम-झाम देवनागरी में होगा।

आज मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर, 11 वेबसाईट्स में से, इस वर्ष की पहली ऑनलाईन हो चुकी www.BlogsInmedia.com की सूचना देते हुए आने वाले भारतीय पर्वों पर जिन कुछ अन्य वेबसाईट्स का खुलासा मैंने किया है उनमें लगभग सभी वेबसाईट्स का उपयोग ब्लॉगर साथी स्वयं के लिए ही करेंगे। मेरी भूमिका केवल एक सलाहकार की ही रहेगी। अब कौन सी वेबसाईट किस माह में आएगी कहना मुश्किल है जैसे जैसे कार्य संपन्न होता जाएगा वैसे वैसे इन्हें ऑनलाईन कर दिया जाएगा। सूचना इसी ब्लॉग पर दी जाएगी। फिलहाल इन वेबसाईट्स की रूपरेखा हमारे सुपुत्र की देखरेख में तैयार हो रही हैं। बहुत जल्द ही इन सभी का प्रबंधन एक रजिस्टर्ड कम्पनी के पास होगा। लेकिन कहीं ना कहीं आप मुझे इनसे जुड़ा हुआ मानिए।

अब मैं आपके विचार जानना चाह्ता हूँ।

लेख का मूल्यांकन करें

Related posts

42 thoughts on “हिन्दी ब्लॉगिंग को समर्पित 11 वेबसाईट्स आ रही हैं 2011 में

  1. shikha varshney

    बहुत बहुत बढ़िया…आभार.

  2. ललित शर्मा

    स्वागत है जी।
    इंतजार रहेगा इन वेबसाईट का।

  3. दर्शन लाल बवेजा

    स्वागत है जी।
    इंतजार रहेगा इन वेबसाईट का।

  4. राज भाटिय़ा

    जब से आप की पोस्ट आई पचास बार आ चुका हुं, लेकिन टिपण्णी देना भुल जाता हुं.

    जानकारियां बहुत अच्छी लगी, मै इसी मे लग गया था, कुछ दिनो बाद आप को ही एग्रीगेट्र का काम सोपूंगा. धन्यवाद

  5. प्रवीण त्रिवेदी ╬ PRAVEEN TRIVEDI

    शुभकामनाएं !

    ब्लोग्स इन मीडिया में टैग्स ब्लॉग के नाम पर होने चाहिए …..ऐसा मेरा मानना है | हालांकि कुछ टैग्स अब भी साइड बार में दिखाई दे रहें हैं …..पर प्रिंट मीडिया में कम छपने वाले ब्लॉगर ( हम जैसे ) अब भी वहाँ दिख नहीं रहे?

  6. PD

    वाह.. ये खबर पढ़ कर लग रहा है जैसे खून में तेजी आ गई.. 🙂
    हर एक सोच बहुत बढ़िया है.. 🙂

  7. प्रवीण शाह

    .
    .
    .
    आदरणीय पाबला जी,

    बीर जी, तुस्सी ग्रेट हो…

    बहुत ही शुभ समाचार दिया है आपने आज… मैंने तो बहुत पहले से आपसे यह उम्मीद बाँध रखी थी…

    आभार!

  8. Learn By Watch

    श्रीमान,

    जब आपने इतनी वेबसाइट की चर्चा की ही है, तो एक नजर 'अपना ब्लॉग' पर भी दाल लीजिए, हो सकता है, हम एक अच्छा ब्लॉग एग्रीगेटर बना सकें -आपकी समीक्षा की आवश्यकता है

    http://www.apnablog.in

  9. गौतम राजरिशी

    Pabla ji, kaise kar lete hain aap itnaa sara kuchh akele….amazing! hats off to you….intjaar rahega aapki ghoshnaao ka pura hone ka…

  10. anitakumar

    सराहनीय, बेसब्री से इंतजार रहेगा इन वैबसाइटस का

  11. ZEAL

    पाबला जी , इस उपयोगी जानकारी के लिए आभार।

  12. ePandit

    बहुत बढ़िया, हिन्दी चिट्ठाकारी के प्रचार हेतु आपके प्रयास वन्दनीय हैं।

    एक बात अवश्य कहना चाहूँगा कि विभिन्न वेबसाइटों के लिये कई सारे अलग डोमेन नेम लेने की बजाय हो सके तो एक ही मुख्य डोमेन नेम लेकर उस पर सबडोमेन बनायें। इससे एक तो खर्चा-पानी बचेगा और दूसरा मुख्य डोमेन नेम वाली साइट पर सभी साइटों का लिंक देकर आसानी से पहुँच बनायी जा सकेगी।

  13. सुज्ञ

    इस सेवा-कार्य के लिये आभार, और ढेर सारी शुभकामनाएँ

  14. cmpershad

    ऐसे समय में जब फ़ेस बुक बंद हो रही है, आपका यह अभियान स्तुतीय है॥

  15. GirishMukul

    jee
    janakar hardik khushee hui
    aabhaar

  16. Rahul Singh

    महत्‍वपूर्ण जानकारी, स्‍वागतेय.

  17. Arvind Mishra

    आपके अभिलषित संकल्प पूरे हों इसी में हिन्दी ब्लागजगत का उन्नयन भी निहित है -नव वर्ष मंगलमय हो !

  18. उन्मुक्त

    सराहनीय, बेसब्री से इंतजार रहेगा

  19. जी.के. अवधिया

    पहले नए वेबसाइट के लिए बधाई पाबला जी!

    आप वास्तव में एक महान और सराहनीय कार्य कर रहे हैं!

  20. संगीता पुरी

    इंतजार रहेगा इन वेसाइटों का .. शुभकामनाएं !!

  21. बी एस पाबला

    प्रवीण त्रिवेदी ╬ PRAVEEN TRIVEDI says

    ब्लोग्स इन मीडिया में टैग्स ब्लॉग के नाम पर होने चाहिए …हालांकि कुछ टैग्स अब भी साइड बार में दिखाई दे रहें हैं …..पर प्रिंट मीडिया में कम छपने वाले ब्लॉगर ( हम जैसे ) अब भी वहाँ दिख नहीं रहे?

    प्रवीण जी 'क्या आपका ब्लॉग यहाँ है?' के अंतर्गत सभी ब्लॉग्स की सूची ड्रॉप-डाऊन मेन्यू में उपलब्ध है

  22. बी एस पाबला

    @ गौतम राजरिशी ने कहा…

    kaise kar lete hain aap itnaa sara kuchh akele….amazing!

    सर जी, आपने गुरू साहबान का वह जोशीला वाक्य सुना ही होगा कि

    सवा लाख से एक लड़ाऊँ
    चिड़ियों सों मैं बाज तड़ऊँ

  23. बी एस पाबला

    @ ePandit

    विभिन्न वेबसाइटों के लिये कई सारे अलग डोमेन नेम लेने की बजाय हो सके तो एक ही मुख्य डोमेन नेम लेकर उस पर सबडोमेन बनायें। इससे एक तो खर्चा-पानी बचेगा और दूसरा मुख्य डोमेन नेम वाली साइट पर सभी साइटों का लिंक देकर आसानी से पहुँच बनायी जा सकेगी।

    बात सही है किन्तु मेरी रणनीति व समझ अलग है।

  24. बी एस पाबला

    आप सभी का आभार, हौसला बढ़ाने के लिए

  25. Raviratlami

    बधाई व शुभकामनाएँ.

  26. निर्मला कपिला

    पावला जी बहुत अच्छा सार्थक प्रयास है। ढेरों बधाईयाँ और शुभकामनायें।

  27. कमलेश भगवती प्रसाद वर्मा

    ,,badhiya pabla ji …aabhar

  28. डा. अमर कुमार


    अब ब्लॉगबुखार !
    क्या कहें, आप काम ही ऎसे करते हैं, कि..
    आपकी तारीफ़ें कर कर के अघा गया हूँ !
    चलिये मेरी शुभकामनायें पकड़िये !
    पावती भेज दीजियेगा !

  29. नीरज जाट जी

    घुमक्कडों का भी ध्यान रखना पाबला जी।

  30. Akshita (Pakhi)

    बहुत अच्छी-अच्छी जानकारी मिली यहाँ तो…

    _________________________
    'पाखी की दुनिया' में 'अंडमान में एक साल…'

  31. नुक्‍कड़

    और मुझे अपने से जुड़ा मानिये।

  32. यशवन्त माथुर

    आप सब को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभ कामनाएं.
    सादर
    ——
    गणतंत्र को नमन करें

  33. Sawai Singh Raj.

    आदरणीय ब्लागमित्र को मेरी और से गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ

  34. शिवम् मिश्रा

    इस लिए ही तो हम कहते है ……………

    "कम्पयूटर अविश्वसनीय रूप से तेज, सटीक और भोंदू है.
    पाबला अविश्वसनीय रूप से धीमा, अस्पष्ट और प्रतिभावान है.
    लेकिन दोनों मिलकर, कल्पना-शक्ति से ज़्यादा ताकतवर हैं !!"

  35. विनोद पाराशर

    पाबला जी,
    इतने दिन तक गायब रहने का राज अब समझ में आया.समुंद्र में से मोती निकालकर लाये हो.ब्लागिंग के संबंध में तकनीकी जानकारी-वह भी हिंदी में.वाह पाबला जी,वाह! दिल गार्डन-गार्डन हो गया.

  36. dhiru singh {धीरू सिंह}

    बहुत बहुत बधाई

  37. dhiru singh {धीरू सिंह}

    इन्तज़ार में पलके विछाये बैठे है

  38. अंशुमाली रस्तोगी

    अरे पाबलाजी आप तो हम सब के गुरु है, भला आप जो काम करें हम उसे नजरअंदाज कर दें, कभी नहीं हो सकता है। आपकी मेहनत आपके चेहरे की मोहक हंसी की मानिंद रंग लाने लगी है। इस रंग को यूंही रंगते-भरते रहें, हमारा सहयोग आपके साथ है, हमेशा और हमेशा।

  39. padmsingh

    ढेर सारी उपयोगी जानकारी के लिये आभार ..

  40. मीनाक्षी

    ढेरों शुभकामनाएँ… इंतज़ार है …

Leave a Comment

टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ
Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)

[+] Zaazu Emoticons