ये खिड़कियाँ हैं या बिजली घर!?

शीशे के घरों में रहने वाले दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं मारते। बिल्कुल नहीं मारेंगे, क्योंकि वैज्ञानिकों की बात पर यकीन करें, तो जल्दी ही शीशे के ऐसे पारदर्शी घर बनेंगे, जिनसे कार्बन उत्सर्जन आधा रह जाएगा। इतना ही नहीं इन मकानों में इस्तेमाल किए जाने वाले शीशे से बिजली भी बनेगी। क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी के शोधकर्तायों का समूह Transparent Solar सेल्स तकनीक विकसित कर रही है। इस तकनीक से जो शीशा बनेगा वह रिहाइशी और व्यवसायिक इमारतों की खिड़कियों में तो लगेगा ही, बिजली भी पैदा करेगा। मुख्य शोधकर्ता…

Read More

कंप्यूटर सर्वर की गरमी से स्वीमिंग पूल का पानी गर्म होगा

स्विटजरलैंड में बना नया कम्प्यूटर केंद्र अपने सर्वर और संचार उपकरणों से निकलने वाली गर्मी से निकट ही स्थित स्विमिंग पूल के पानी को गर्म करने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। जब कम्प्यूटिंग कम्पनियां अपने डाटा केंद्रों को पर्यावरण के अनुकूल बनाने की बात करती हैं तो उनका मतलब होता है या तो केंद्रों को नवीनीकरण योग्य वस्तुओं से बनाना या फिर ऊर्जा की कम खपत वाले सर्वर का उपयोग करना। कुछ मामलों में कम्प्यूटर से निकलने वाली गर्मी को पास के दफ्तरों में गर्मी पहुंचाने के लिए…

Read More