गूगल ने हमारे बच्चों पर निगाह रखी और घर पहुंचने में मदद की

जब उत्तर भारत की यात्रा पर गए हमारे सुपत्र गुरुप्रीत, द्विवेदी जी के सुपुत्र वैभव और अन्य मित्रों के साथ, जयपुर के पास स्थित भारत के सबसे डरावने स्थल के नाम से मशहूर भांगड़ के खंडहरों में गहराते अंधेरे के भीच भटक गए तो काफी समय तक स्वयं कोशिश करते रहे बाहर निकलने की। सहायता मिल नहीं रही थी। हार कर उसने मुझे फोन किया। मैं यहाँ, भिलाई में अपने कंप्यूटर पर उसकी लोकेशन देख पा रहा था। मैंने उसे अपने मोबाइल का उपयोग करने की याद दिलायी और बात…

Read More