सुनहरी बीयर, खूबसूरत चेहरे, मोटर साईकिल टैक्सियाँ और गोवा की रंगीनी

ब्रिटेन में जनमी-पली उस युवती की सहायता कर हम चल पड़े रात्रि विश्राम के लिए शहर की ओर। दूसरे दिन, 10 जुलाई को समुद्र-तट की ओर आना होगा कि नहीं, इस ख्याल को छोड़ हम ‘मार्केट’ इलाके में KTC बस स्टैण्ड के पहले ही उतर गए बस से। चमचमाती बहुमंजिला दुकानों व मल्टीप्लेक्स पर नज़रें डालते हुए जब हम पिता-पुत्री, मिडास टच बिल्डिंग स्थित, होटल एवेन्यू के पास पहुँचे तो पता चला कि प्रवेश का रास्ता तो दूसरी ओरहै! अंधेरे में आँखें अभ्यस्त हुईं तो पास ही की लम्बी-चौड़ी निर्माणाधीन…

Read More

बैतूल की गाड़ी, विश्व की पहली स्काई-बस, घर छोड़ आई पंजाबिन युवती और गोवा समुद्री तट

गोवा भ्रमण में मिले दिखे दिलचस्प नज़ारे

Read More

कोंकण रेल्वे की अविस्मरणीय यात्रा और रत्नागिरि के आम

कोंकण रेल्वे द्वारा संचालित रेलगाड़ी की सवारी करते गोवा पहुँचने का रोचक चित्रमय वर्णन

Read More

चूहों ने दिखाई अपनी ताकत भारत बंद के बाद, कच्छे भी दिखे बेहिसाब

घुघूती बासूती जी से मुलाकात की सोच रखी थी सतीश पंचम जी से मुलाकात के बाद। यह भी मन में था कि समय रहा तो विवेक रस्तोगी जी से भी मुलाकात कर ली जाए। लेकिन कहा जाता है ना कि जो सोचो वह कभी होता है क्या? उस सोमवार 5 जुलाई को जब तैयार होने लगा तो मामाजी का प्रश्न उछला -कहाँ की तैयारी है? मैंने बताया तो मुस्कुराते हुए उन्होंने कहा कि टीवी नहीं देखते ना इसलिए जानते नहीं हो कि आज तो भारत बंद है और यूँ अनजान…

Read More