ब्लॉगिंग को बकवास ठहराते पुण्य प्रसून बाजपेयी से हुई मुठभेड़

रविवार का वह खुशनुमा दिन एक साथ बिता, सभी के दिल-ओ-जुबां पर अगली मुलाकात का वादा था। एक एक कर जब सभी प्रफुल्लित मन से विदा लेने लगे तो, अजय झा ने अंत में रह गए द्विवेदी जी से अपने निवास पर आमंत्रित किया। कुछ दुविधा में पड़े, वल्लभगढ़ जाने वाले, द्विवेदी जी को जब […]
Continue reading…

 

द्विवेदी जी की भिलाई यात्रा: अंतिम दिन, अभिनंदन, मुलाकातें तथा रवानगी

द्विवेदी जी, समय पाते ही हमारे उस ‘कारखाने’ की युवती ‘रोज़’ के साथ काम पर लग जाते थे। उधर ब्लॉगर साथी चकित थे कि अगले दस दिनों तक कोटा से बाहर रहने की बात कर द्विवेदी जी एकाएक कैसे प्रकट हो जाते हैं। कई साथियों ने छेड़ा भी कि कहीं झूठ-मूठ की बातें तो नहीं […]
Continue reading…

 

द्विवेदी जी की भिलाई यात्रा: दूसरा दिन, वैन की समस्या, रायपुर प्रेस क्लब तथा हमारे कारखाने की युवती

द्विवेदी जी के साथ जब देर रात उस पारिवारिक रेस्टोरेंट से लौटे तो उनकी आँखों में नींद साफ देखी जा सकती थी। उन्होंने कोशिश तो की कम्प्यूटर के सामने कुछ समय बिताने की लेकिन आँखे बोझिल होते ही फिर दीवान पर जा पहुँचे। हमने भी कुछ वक्त बिताया नेट पर और अगले दिन रायपुर यात्रा […]
Continue reading…

 

द्विवेदी जी की भिलाई यात्रा: पहला दिन, डेज़ी की उछल कूद, भाई से मुलाकात व अगले दिन की योजना,

हालांकि शब्दों के सफर वाले अजित वडनेरकर जी के निवास से रवाना होकर द्विवेदी जी छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस से भिलाई आ रहे थे। किंतु गफलत ना हो जाये इसलिये उन्हें एक छोटी सी जानकारी भी दे चुका था कि वे दुर्ग स्टेशन पर ही उतरें, मैं वहाँ मौज़ूद रहूंगा। दरअसल भिलाई एक ऑद्योगिक टाऊनशिप का आकार […]
Continue reading…

 

दिनेशराय द्विवेदी जी को बधाई देने का दिन है आज!

कल जब  मैंने द्विवेदी जी की भिलाई यात्रा का विवरण लिखना शुरू किया था, तो आज 18 मई की विशेषता का ध्यान ही नहीं रहा था। नाईट शिफ्ट के बाद आधे दिन की नींद ले, तरोताज़ा होकर जब कम्प्यूटर के सामने बैठा तो सामने यह जानकारी दिखी कि  आज आदरणीय दिनेशराय दिवेदी जी की वैवाहिक वर्षगांठ है। […]
Continue reading…

 

द्विवेदी जी की भिलाई यात्रा: प्रयोजन, उनकी उलझन, मेरी नाराजगी

इस वर्ष फरवरी माह के पहले,  तीसरा खंबा व अनवरत ब्लॉग के लेखक व कोटा, राजस्थान में वकालत कर रहे दिनेशराय द्विवेदी जी का, उनके सुपुत्र सहित भिलाई प्रवास हुया था। मैंने तब ही यह निश्चय कर लिया था कि इस प्रवास की कुछ बातें तभी साझा करूँगा जब उनके भिलाई प्रवास का उद्देश्य पूरा […]
Continue reading…