मानव-गाय भ्रूण: क्या हम प्राचीन ग्रंथ पढ़ रहे हैं

वैज्ञानिकों का दावा है कि उन्होंने यूरोप में एक ऐसे हाइब्रिड भ्रूण को विकसित किया, जिसका एक भाग मनुष्य का और एक भाग पशु का था। ब्रिटेन में न्यूकासल विश्वविद्यालय के एक दल ने क्लोनिंग पर शोध के दौरान इसको विकसित किया। मनुष्य और गाय के डीएनए के मिश्रण से तैयार किया गया यह भ्रूण केवल तीन दिन ही रह सका। प्रमुख शोधकर्ता डा. लीले आर्मस्ट्रांग के मुताबिक मानव भ्रूण कोशिकाओं में से लिए गए डीएनए को गाय के अंडाशय में से लिए गए अंडों में डालकर इस हाइब्रिड भ्रूण…

Read More