हम तुम एक कमरे में बंद हों तो क्या क्या खो सकता है?

जब से हमारे सुपुत्र गुरुप्रीत एक जानलेवा सड़क दुर्घटना से सकुशल बचे हैं तब से वाहन चलाते हुए सभी सुरक्षित मानकों का पालन करते चलते हैं। इसके बावज़ूद पिछले दिनों ट्रैफ़िक पुलिस ने किसी कारण उन्हें ‘पकड़’ लिया। मेरे मोबाईल पर उसकी आवाज़ गूँजी कि क्या करूँ? मैंने झट से अपना आजमाया फार्मूला बता दिया कि गाड़ी भी ले लेने दो उनको और लाईसेंस भी रखने दो केवल पावती माँग लेना! शायद मेरा फार्मूला काम नहीं आया या उसने आजमाया नहीं लेकिन अपने काम निपटा कर वह घंटे भर बाद…

Read More

केशधारी सिक्ख व सिर मुंडवाई विधवा

एक ख्याल कि सिक्ख गुरुयों ने एक नेक नीयत योद्धा को केशधारी सिक्ख बने रहने की अनिवार्यता क्यों रखी थी

Read More

सोशल नेटवर्किंग के बाद, अब आया सोशल एक्सरे वाला चश्मा

बेशक आजकल इंटरनेट पर सोशल नेटवर्किंग का बोलबाला है लेकिन वास्तविक दुनिया में आने वाले किसी दिन कोई आपको अजीब सा रंगीन चश्मा पहन कर मिले तो ऊलजलूल बाते सोचना बंद कर दें, हो सकता है कि चश्मा पहनने वाला व्यक्ति आपके दिमाग को पढ़ ले। जी हां, ये कोई मजाक नहीं है, वास्तव में मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की मीडिया लैब में ऎसे चश्मों पर शोध किया जा रहा है, जो सामने वाले के हाव-भाव, संवेदनाओं को जान सकेंगे। फिलहाल इस चश्मे का नाम सोशल एक्सरे ग्लास दिया गया…

Read More

अगले 10 वर्षों में कृत्रिम मानव मस्तिष्क, असली का स्थान ले लेगा!?

तंत्रिका वैज्ञानिकों का दावा है कि अगले 10 वषों के भीतर वैज्ञानिकों को मानव मस्तिष्क का मॉडल विकसित करने में सफलता मिल सकती है। यह कृत्रिम दिमाग असली दिमाग की तरह काम करेगा। स्विट्जरलैंड के ब्रेन माइंड इंस्टीट्यूट (Brain Mind Institute) में प्रोफेसर हेनरी मार्करैम ने मीडिया से बातचीत में कहा, ‘मैं पूरी तरह यह मानता हूं कि ऐसा तकनीकी और जैविक रूप से सम्भव है। ऐसी ईजाद के लिए भारी संसाधन की जरूरत पड़ सकती है। वित्तीय संसाधन की कमी इसमें आड़े आ सकती है। यह बेहद खर्चीली परियोजना…

Read More