भिवंडी के दंगे, विश्वमोहिनी और विदेशी धरती पर पहला कदम

अपने क्षेत्र में ढेरों कीर्तिमान बना चुके भिलाई के दो नवयुवकों द्वारा अपनी नौकरी के शुरुआती दिनों में मोटरसाइकिल पर विश्व भ्रमण के अभियान का इरादा बना था जून 1983 में. इस सफल अभियान के समापन की रजत जयंती पर लिखी जा रही विशेष लेख-माला में अब तक आप पढ़ चुके हैं कि कई रोचक टिप्पणियाँ और सलाहें के बीच  किस तरह उन्होंने इसकी तैयारी की। तमाम बाधाओं को पार करते हुए आखिरकार वह दिन आ ही पहुँचा जब 8 मई 1984 की सुबह 10:15 पर तत्कालीन इस्पात व खान मंत्री…

Read More