सितंबर में जन्मे लोग और ज्योतिष

सितंबर में जन्मे लोग किस तरह का व्यक्तित्व रखते हैं और इनके बारे में ज्योतिष विज्ञानं क्या कहता है? इसके बारे में उत्सुकता कुछ दिनों पहले ही हुई, जब एक मित्र को इन्टरनेट से देख देख कर यह सब बताते मज़े लिए जा रहा था.

बहुत  पहले इस तरह की कई जिज्ञासाएं होती थीं. कभी सड़क किनारे बैठे तोते वाले ज्योतिषी काम आते तो कभी गले में मोटी मोटी मालाएं पहने, भीड़ से घिरे रहने वाले धीर गंभीर व्यक्ति.

इस बार जब इन्टरनेट की शरण ली तो कई बातें पढ़ हैरान हुआ, कई बार गंभीर हुया और कई बार ठहाके मार भी हंसा.

फिर ख्याल आया कि क्यों ना वह सब साझा किया जाए जो मैंने देखा, पढ़ा.

सितंबर का महीना इसलिए कि मेरा खुद का जन्मदिन सितंबर में है.

इस तारतम्य में जो कुछ देखा मैंने, उसे हुबहू रखने की कोशिश है यहाँ और फिर उसके अंत में संबंधित लिंक दी जा रही है

सितंबर में जन्मे लोग तानाशाह होते हैं

आपका जन्म किसी भी साल के सितंबर महीने में हुआ है तो एस्ट्रोलॉजी कहती है कि आप दिल के अत्यंत उदार है लेकिन एक अजीब तरह की सनक आपमें पाई जाती है।

अपने आप से आपको इतनी मोहब्बत होती है कि कोई थोड़ा-सा भी आपके विरूद्ध कुछ कह दें तो आप भड़क उठते हैं।

आपमें सीखने और समझने की क्षमता अन्य की तुलना से अधिक होती है। खुद को कैसे निरंतर आगे बढ़ाया जाए यह कोई आपसे सीखें।

सितंबर में जन्मे

स्वयं की प्रगति के लिए आप थोड़े से स्वार्थी भी हो जाते हैं।

आपके सबसे खास मित्र को भी कभी नहीं पता चल पाता है कि आपके अंदर क्या खिचड़ी पक रही है। यकायक कोई उपलब्धि सामने लाकर आप सबको चौंका देते हैं।

गुस्से के तो आप बादशाह है लेकिन हमेशा इसी गलतफहमी में रहते हैं कि आपके जैसा विनम्र कोई दूसरा नहीं होगा। तानाशाही आपके रग-रग में समाई है।

दूसरों से काम करवाना हो तो जोंक की तरह पीछे लगना भी आपसे ही सीखना चाहिए। अपने नजदीकी लोगों से आपकी भारी-भरकम अपेक्षाएं होती है। यहां तक कि प्यार का इजहार करने में भी आपका अहंकार हावी रहता है।

धुन के इतने पक्के कि अपने काम के लिए 24 घंटे आप भूखे-प्यासे रहकर काम कर सकते हैं लेकिन बुरी आदत यही है कि आप चाहते हैं आपकी इस आदत का लोग हरदम गुणगान करें।

तारीफ के इतने भूखे होते हैं कि हर समय कोई आपको स्तुति गान करने वाला चाहिए। अक्सर चाटुकार आपकी इस कमजोरी का फायदा उठा ले जाते हैं।

आप अपने आपको हर समय अप-टू-डेट रखते हैं। इसीलिए आपका हर काम अप-टू-द-मार्क होता है। किसी को कुछ देते हैं तो उसकी वसूली भी कर लेते हैं।

आपको जीवन में संघर्ष भी खूब करना पड़ता है।

अगर आप करियर के मामले में बेहतरीन पोजिशन पर हैं तो हो सकता है प्यार के मामले में फिसड्डी हों, या फिर अगर प्यार आपके पास भरपूर है तो शादी का लड्डू आपकी थाली में नहीं होगा।

कहने का मतलब यही कि जीवन के किसी एक क्षेत्र में आपको हमेशा खालीपन लग सकता है।

आप असंतुष्ट प्राणी भी हैं। हर समय आपको कुछ नया ना मिले तो आप कुंठित हो जाते हैं। सेक्स आपके जीवन में कई रूपों में आता है लेकिन आप बेचारे, पद-प्रतिष्ठा के मारे कभी उनका आनंद नहीं उठा पाते।

आपमें अगर चिपकने की प्रवृत्ति थोड़ी सी कम हो जाए तो आप एक शानदार इंसान के रूप में याद किए जाएंगे।
 
अक्सर सितंबर माह में जन्मे लोग बेहतरीन सिंगर, राइटर, एडिटर या साइंटिस्ट होते हैं।

स्वयं को परम ज्ञानी समझने वाली सितंबर माह की लड़कियां अक्सर सच्चे प्यार से वंचित रह जाती है। इधर की उधर करने में उस्ताद हैं। कोई शक नहीं कि इनमें विलक्षण प्रतिभा होती है। कोई एक खास गुण भी होता है। लेकिन अभिमान के चलते यह उस गुण की सही कद्र नहीं कर पाती हैं।

अपार रूप-सौन्दर्य की मल्लिका होती है पर प्यार के मामले में अव्वल दर्जे की बेवकूफ होती हैं। अपना सबकुछ लूटाकर भी खुश रहती है। सच्चे प्यार को परख नहीं पाती और गलत व्यक्ति के साथ नैया डूबो लेती है।

सितंबर माह में जन्मी कुछ लड़कियों का मन शीशे की तरह साफ होता है। दुनिया के छल-कपट से कोसों दूर ये मोहतरमाएं अन्याय के विरूद्ध शेरनी बन जाती है।

अगर इनका कहीं अफेयर चल रहा हो तो अपना किया-धरा सब भूल जाएंगी लेकिन अगले का पाई-पाई का हिसाब रखेंगी। अपने प्यार को लेकर पजेसीव भी होती हैं। जुबान कड़वी, अंदाज मीठा यही इनकी पहचान है।

इन्हें सलाह है कि सच्चे दोस्त असली मोती की तरह होते हैं उन्हें सहेजना सीखें। मतलबपरस्ती से दोस्तों का कुछ दिन तक फायदा तो उठा लेंगी लेकिन संभव है एक दिन बिलकुल अकेली पड़ जाए।

उपरोक्त कथन के लिए देखें http://hindi.webdunia.com/astrology-articles/september-birthdays-116083100027_1.html

सितंबर में जन्मे लोगों के दोस्तों की संख्या कम होती है

सितंबर में जन्मे लोगों के भाग्य का चमकीला सितारा हमेशा साथ चलता है। वे कोशिश में नही बल्कि ‘कड़ी’ मेहनत में विश्वास रखते हैं।

बिखराव पसंद नहीं… सबको साथ लेकर चलने में खुशी… लाइफ के प्रति नजरिया बेहद ही स्पष्ट… कब, कितना और कैसे चाहिए यह दिमाग में एकदम क्लियर होता है।

सितंबर में जन्मे

किसी भी व्यक्ति पर आसानी से भरोसा नही… इसलिए दोस्तों की संख्या कम… काफी कम लोगो पर विश्वास करते है और जिनपर आप विश्वास करते है उन्हें अपना दोस्त बनाते है और उनके प्रति हमेशा ईमानदार रहते है.

सौन्दर्य प्रेमी होते है… प्रकृति से काफी प्रेम होता है इसलिए ऐसी जगह घूमना काफी पसंद होता है जहाँ का प्राकृतिक नज़ारा काफी सुन्दर हो।

सितंबर में जन्मे

अपने काम और करियर को लेकर हमेशा ही सतर्क… हर काम समय पर चाहिए… लेकिन कभी – कभार खुद दूसरों के समय की उतनी कद्र नहीं कर पाते.

सितम्बर माह में जन्में अधिकतर युवा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, आर्मी, साइंटिस्ट, चार्टेड अकांउटेंट, या फिर इंजीनियरिंग फील्ड में सफल होते है. शायद आपको पता नही होगा परन्तु कई लोग आपको आपको अपना आइडियल भी मानते है.

काफी भावुक होते है इसलिए बहुत जल्दी ही प्यार में पड़ जाते है… प्यार में पड़ने से पूर्व आप  पार्टनर की सभी आदतों को बख़ूबी निहारते है.

 रिश्तो में काफी भरोसा करते है इसलिए ये प्यार के रूप में केवल एक को ही चुनते है और उसे जीवनसाथी के रूप में पाने के लिए हर संभव प्रयास करते है…रोमांस के मामले में जरा पीछे रहना ही पसंद करते हैं… इसका यह मतलब नहीं कि प्यार और अपने करीबी रिश्तों को अहमियत नहीं देते… बस, इन चीजों का इजहार करना पसंद नहीं.

सितम्बर माह में जन्मे हर युवा को सलाह दी जाती है कि अपने गुस्से पर थोड़ा कण्ट्रोल करना सीखे और कभी-कभी दूसरों के नजरिये से भी दुनिया देखें।

उपरोक्त कथन के लिए देखें https://upcharnuskhe.com/सितम्बर-में-जन्मे-लोग-कैस/

सितंबर में जन्मे लोग परफेक्शनिस्ट होते हैं 

सितंबर में जन्मे लोग जब भी कोई काम अपने हाथों में लेते हैं, तो उसे पूरे परफेक्शन के साथ ख़त्म करते हैं.  वे बहुत ही मेहनती होते हैं, शांत और रचनात्मक होते हैं.

डिप्लोमैटिक होते हैं…बड़े ही प्यार से सामने वाले से अपनी बात कह भी देते हैं… कन्विन्स भी कर लेते हैं… मुश्किल परिस्थितियों में भी शांत… धैर्य नहीं खोते

सितंबर में जन्मे

रूटीन लाइफ से जल्दी बोर… एनर्जाइज़ करने के लिए वे नेचर के क़रीब रहना पसंद करते हैं.

खाने के शौक़ीन… सब कुछ खाना पसंद… ट्रैवलिंग के दौरान दिक़्क़तें नहीं होतीं, क्योंकि वे जगह के मुताबिक़, जो भी मिले खा लेते हैं.

अकेले रहना पसंद नहीं.. रिलेशनशिप में रह कर ही ख़ुश… ज़रूरी नहीं कि वो रिलेशनशिप लव अफेयर ही हो. परिवार के बीच रहना भी उन्हें पसंद.

ट्रैवल करना पसंद करते हैं. नई-नई जगहें देखना पसंद… जब भी मौक़ा मिले, अपना बैग उठाकर घूमने निकल पड़ते हैं.

उन्हें कम ही चीज़ें पसंद होती हैं, उनमें से एक हैं किताबें. अक्सर आप उनके हाथों में किताबें देखेंगे.

उपरोक्त कथन के लिए देखें https://www.merisaheli.com/september-born-personality-and-characteristics/

सितंबर में जन्मे लोग ईमानदार पार्टनर साबित होते हैं

सितंबर में जन्मे लोग काफी स्मार्ट और संकोची स्वभाव के होते हैं… आमतौर पर ये कोमल स्वभाव के मालिक… दिमाग के काफी तेज होते हैं… काफी मेहनती और धनी होते हैं… जीवन में काफी कुछ मिलता है, लेकिन उसे पाने के लिए इन्हें संघर्ष करना पड़ता है… काफी खुशमिजाज होते हैं… रोमांटिक होते हैं… यौन इच्छाएं प्रबल होती हैं… ईमानदार पार्टनर भी साबित होते हैं… गुस्सैल होते हैं और बड़ी ही आसानी से अपना गुस्सा प्रकट भी कर देते हैं… काफी क्रियेटिव होते हैं और इसी वजह से यह काफी मशहूर भी होते हैं।

सितंबर में जन्मे

इनका दिमाग छानबीन या खोजबीन में बहुत तेज… विज्ञान, मीडिया, टेलीविजन, रिसर्च, पुलिस, कंप्यूटर प्रोग्रामिंग, मेडिकल, आदि क्षेत्रों में चमकते हैं… संचार शक्त‍ि बहुत अच्छी…सामने वाले से अपनी बात मनवाने में माहिर… बेहद मेहनती होते हैं… जब तक काम पूरा नहीं हो जाता, छोड़ते नहीं… प्यार मोहब्बत में लोग सुरक्षा चाहते हैं… सामने वाले ने धोखा दिया तो बर्दाश्त नहीं कर पाते…अपने और अपने प्यार के बीच में किसी का हस्तक्षेप पसंद नहीं करते हैं।

उपरोक्त कथन के लिए देखें : https://hindi.oneindia.com/astrology/2015/born-september-your-characteristics/articlecontent-pf40024-370446.html

सितम्बर में जन्मे लोग कभी किसी से नहीं हारते

सितंबर माह में जन्मे जातक अपनी राह स्वयं तय करते हैं व सफलता इनके पीछे-पीछे चलती है। अच्छे वक्ता… अच्छे तर्क-शास्त्री… उतावलेपन की बीमारी होती है, जिस कारण ये अपना हित व अहित नहीं देख पाते… क्रियाशील मस्तिष्क के स्वामी… हर पल कुछ ना कुछ सोचते ही रहते…इसी सोच स्वभाव के कारण नई-नई विचारधाराएं व खोज इनके दिमाग मे उपजती रहती हैं.

उतावलेपन के स्वभाव से मानसिक दृढ़ता का अभाव… परिणामतय जल्दी ही बुरी आदतों का शिकार… अक्सर छोटी-मोटी चोटों व दुर्घटनाओं के शिकार…धीमी गति से वाहन चलाने चाहिए… अक्सर किसी व्याधि से ग्रसित…

ऐसे जातक बुद्धिमान तो होते ही हैं परंतु भावना प्रधान व भावुक प्रवृत्ति के होते हैं। ये विद्वान, अच्छे समालोचक, लेखक, चिकित्सक व बहुमुखी प्रतिभा के धनी होते हैं।

उपरोक्त कथन के लिए देखें: https://www.patrika.com/horoscope-rashifal/people-born-in-september-future-career-tips-1396210/

सितंबर में जन्में लोग लग्जरी लाइफ जीते हैं

सितम्बर में जन्म लेने वाले व्यक्ति वैभवशाली होते हैं। क्योंकि सूर्य का साथ इनके साथ होता है। जीवनशैली उच्चस्तरीय होती है… बडे़ पदों पर बैठते हैं… धार्मिक आस्था, माता-पिता के सेवक और गरीबों की सहायता के लिए हमेशा तैयार… खासियत यह भी कि अपनी परवाह नहीं करते हुए दूसरी की सहायता से पीछे नहीं हटते…विशालहृदयी और उच्च विचार और रिश्तों में ईमानदारी रखने वाले होते हैं।

सितंबर में जन्मे

स्वभाव बहुत ही सौम्य होता है… ईमानदारी को ही सब कुछ मानते… कोशिश करते रहते हैं कि हर मामले में ईमानदारी बरते… दूसरों से भी ऐसी ही उम्मीद… अपनी प्रशंसा हर वक्त सुनना चाहते हैं… कभी-कभी खुद ही अपनी प्रशंसा करने से नहीं चूकते.

शानदार और वैभवशाली लाइफ जीना पसंद… इसके लिए वे हर संभव कोशिश…  क्योंकि इस माह में गुरु सूर्य होता है, तो ये कभी-कभी अपने जीवन में उग्र स्वभाव से भी पीड़ित…  दिमाग में सब कुछ ऐशो आराम और विलासितापूर्ण जीवन जीने की इच्छा हमेशा…  इस कारण ऐसे लोग हठ, क्रोध, हिंसा के पक्षधर होते हैं।

सामान्य कद-काठी के होते हैं… सिर पर बाल भी कम होते हैं…सामान्य स्वास्थ्य…  बुजुर्ग अवस्था में गठिया और चर्म रोग के शिकार… लोगों को युवावस्था के दौरान खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

सितम्बर वाले लोगों का भाग्य प्रबल होता है… कई बार इन्हें कम मेहनत में ज्यादा अच्छा परिणाम… आजाद ख्यालों के भी… कभी-कभी अच्छे अवसरों को जानकर भी मुंह मोड़ लेते हैं, जो बाद में इनके भाग्योदय में कठिनाइयां पैदा करता है… शक भी ज्यादा करते हैं… जिस व्यक्ति के बारे में गलत राय बना लेते हैं उसे मरते दम तक वैसा ही मानते हैं।

दूसरे व्यक्तियों की राय मानना अपनी तौहीन  लगता है… इस माह के लोग दो रूपों में जीवन यापन करते हैं… ऊपर से तो बाहरी समाज के लिए सख्त… लेकिन इनके करीब होते हैं उनके लिए ये बहुत ही सौम्य हृदय वाले माने जाते हैं।

उपरोक्त कथन के लिए देखें: https://www.patrika.com/raipur-news/raipur-know-how-to-live-births-in-september-1387484/

सितंबर माह से अलग, मूलांक 3  की बात

जिन व्यक्तिओ का जन्म किसी भी माह की 3.12.21 या 30 तारीख को हुआ है तो उनका मूलांक 3 होगा और मेरी जन्मतिथि कहती है कि मूलांक 3 है.

मूलांक 3 का स्वामी ग्रह बृहस्पति है, जो सभी ग्रहों के गुरु हैं। मूलांक 3 वाले व्यक्ति बड़े स्वाभिमानी… किसी के आगे झुकना इन्हें पसंद नहीं… किसी का एहसान नहीं लेना चाहते… किसी का बेवजह हस्तक्षेप पसंद नहीं… अपनी स्वतंत्रता से समझौता करना पसंद नहीं होता।

सितंबर में जन्मे

इस मूलांक वाले व्यक्ति साहसी, वीर, शक्तिशाली, अविचल, संघर्षशील, श्रमजीवी तथा कष्टों से हार न मानने वाले होते हैं…  रचनात्मक क्षमता पर्याप्त मात्रा में होती है… जिस कार्य को ठान लेते है तो उसे करके ही छोड़ते हैं… महात्वाकांक्षी होते हैं… साथ ही अच्छे विचारक, दूरदर्शी, संभावित घटनाओ को भांप लेने वाले होते हैं।

यदि मूलांक 3 वालों की शिक्षा की बात की जाय तो प्रायः ये उच्च स्तर की शिक्षा प्राप्त करते हैं… बड़े अध्यनशील… पढने लिखने में चतुर… विज्ञान व साहित्य में अत्यधिक रूचि… पढाई में सफल रहते हैं.

यदि इनके आर्थिक स्थिति की बात की जाय तो आरम्भिक उम्र में इनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं… उस समय इनके पिता को इनके ऊपर बहुत खर्चे करने पड़ते हैं… लेकिन उम्र बढ़ने के साथ-साथ इनकी आर्थिक स्थिति में सुधार… आमदनी के एक से अधिक साधन… धन सम्पत्ति को लेकर इन्हें कई बार मुकद्दमेंबाजी का भी सामना करना पड़ता है।

सामान्यतय: ये अपने भाई बहनों के लिए काफी कुछ करते हैं, लेकिन इन्हें अपने भाई बहनों से अधिक सहयोग नहीं मिल पाता फ़िर भी भाई बहनों से इनके सम्बंध अच्छे रहते हैं… अन्य रिश्तेदारों की भी खूब मदद करना चाहते हैं लेकिन वो लोग इनसे मुंह मोड़ते रहते हैं… मित्रों की संख्या खूब… लेकिन मूलांक 3, 6, 9 वाले इनके करीबी मित्र… कठोर अनुशासन के कारण कुछ लोग इनके विरोधी… फिर भी सभी के प्रति विनम्र व मिलनसार… हालांकि किसी एक मित्र से सदैव हानि व विश्वासघात की सम्भावना रहती हैं।

यदि विवाह या प्रेम संबंधों की बात की जाय तो इनके प्रेम सम्बन्ध स्थायी नहीं रहते, लेकिन सामान्य तौर पर वैवाहिक जीवन सुखी रहता हैं… कभी-कभी इनके एक से ज्यादा विवाह के योग… जिनमें से पहला विवाह सदैव कष्ट देता हैं… विलासी प्रवृति के होते हैं लेकिन फ़िर भी अपने मान सम्मान का ध्यान रखते है…  इनके दो पुत्र एक पुत्री का योग रहता हैं तथा बड़ी संतान से कष्ट मिलने की सम्भावना रहती है।

सितंबर में जन्मे

मूलांक 3 वाले सेना व पुलिस, प्रशासनिक अधिकारी, सचिव, राजदूत-नेता, बैंको में अधिकारी तथा धार्मिक नेता आदि बनते हैं… ये लेखक, अध्यापक, डिजायनर, सेल्समेन, प्रोफेसर भी हो सकते हैं…  इन्हें अपने कार्यों में दक्ष देखा गया है। ये लोग अपने कार्य में निपुण होते हैं।

उपरोक्त कथन के लिए देखें: http://hindi.astrosage.com/numerology/birthdatenumber3.asp

यह तो हुई सितंबर और मूलांक 3  की बात. आइये देखें कि सितंबर माह में जन्में कुछ चर्चित  भारतीय व्यक्तियों के नाम क्या हैं?



सितंबर में जन्मे

करीना कपूर, अक्षय कुमार, रनबीर कपूर, मनमोहन सिंह, भगत सिंह, लता मंगेशकर, प्राची देसाई, ऋषि कपूर, नरेंद्र मोदी, यश चोपड़ा, आयुष्मान खुराना, महेश भट्ट, देव आनन्द, शबाना आजमी, आशा भोंसले, सर्वपल्ली राधाकृष्णन, गुलशन ग्रोवर, एम ऍफ़ हुसैन, विनोबा भावे,  अभिनव बिंद्रा, ईश्वर चन्द्र विद्यासागर, वेणुगोपाल धूत, बिशन सिंह बेदी, भारतेंदु हरीशचंद्र, नीरजा भानोट, काका हाथरसी, पाश , बी एस पाबला 

सितम्बर माह वाले 680 लोगों की लिस्ट यहाँ देखी जा सकती है: http://www.bornglorious.com/birthday/?ct=/m/03rk0&pd=09

अब बताईये कि यह संकलन कैसा लगा आपको?

 

रैनसमवेयर की दुनिया

कंप्यूटर पर मंडराने वाला अनोखा खतरा रैनसमवेयर होता क्या है? इसके शिकार कौन हैं? यह आता कैसे है? इससे बचाव का तरीका क्या है?
Continue reading…

 

हंपी: पत्थरों के शहर में ब्लॉगरों ने दी दस्तक

विश्व धरोहर मानी गई प्राचीन सभ्यता वाले शहर -हंपी की रोमांचक यात्रा के लिए भिलाई से बैंगलोर होते दो हिंदी ब्लॉगर पहुँच गए अपनी कार में
Continue reading…

 

बैंगलोर पैलेस की भव्यता और माल्या के मॉल का तिलिस्म

कार चलाते दक्षिण भारत की यात्रा करते दो ब्लॉगर किस तरह बैंगलोर पैलेस की भव्यता से मुग्ध हुए और विजय माल्या के मॉल का तिलिस्म कैसे तोड़ा, पढ़िए इस संस्मरण में
Continue reading…

 

ब्लॉगर मंडली खिलखिला उठी बैंगलोर में

इस संस्मरण में पढ़िए कि अपनी कार चला कर भिलाई से बैंगलोर पहुंचे दो ब्लॉगर , वर्षों से परिचित होने के बावजूद वहां पहली बार मिले दो ब्लॉगरों से
Continue reading…

 

भूतों के डेरे वाले गोलकोंडा में बिताया हमने वक्त

अपनी कार चलाते हुए, भिलाई से बैंगलोर जाते, राह में हैदराबाद स्थित गोलकोंडा के किले की सैर और राह की घटनाओं का चित्रमय संस्मरण
Continue reading…

 

हैदराबाद पहुँचने की दास्ताँ, कार से बैंगलोर जाते

एशियन हाईवे पर स्मार्ट कार चलाते, भिलाई से बैंगलोर जाने के क्रम में नागपुर होते हुए हैदराबाद तक की यात्रा का रोचक संस्मरण
Continue reading…

 

बैंगलोर यात्रा: एक दिन पहले

दो ब्लॉगरों द्वारा अपनी स्मार्ट कार के सहारे सड़क से की गई भिलाई बैंगलोर यात्रा की योजना कैसे बनी, तैयारी में क्या कुछ हुया, पढ़िए इस लेख में
Continue reading…

 

इंटरनेट वाई फाई से जुड़े घरेलू उपकरण

आईये देखें कि विज्ञान गल्प कथायों पर बनी फिल्में में दिखाई गई तकनीक अब किन किन घरेलू उपकरण में मिल रही है
Continue reading…

 

स्वच्छ भारत में मेरी हरकतें

स्वच्छ भारत अभियान से भी बहुत पहले मैंने जो हरकतें की, वह लिख दी हैं चुपचाप यहाँ
Continue reading…

 

जब मोबाइल को चैन से बांध कर सो गया मैं !

अपने मोबाइल को चोरी हो जाने से या किसी अन्य हरकत से बचाने के लिए क्या किया जाए? यह रोचक जानकारी यही बताती है
Continue reading…

 

पेट्रोल की कीमत कैसे तय होती है

कच्चे तेल का आयात कर उसे पेट्रोल में बदलने और बाज़ार में लाने के लिए पेट्रोल की कीमत कैसे तय होती है? जानिये इस लेख में
Continue reading…