अलबेला खत्री के साथ छत्तीसगढ़ के कुछ ब्लॉगरों की मस्ती

अपने जनमदिन वाले दिन जब अलबेला खत्री जी ने मुझे मोबाईल पर सम्पर्क कर बधाई दी थी तो उसी के साथ उन्होंने बता भी दिया था कि वे 28 सितम्बर की शाम भिलाई में रहेंगे एक कवि सम्मेलन के सिलसिले में। भिलाई में उनका कार्यक्रम, छत्तीसगढ़ में उनके कुछ व्यस्त कार्यक्रमों में से एक था। इसी बीच जब उन्होंने बताया कि 25 सितम्बर को वे रायपुर पहुँच रहे हैं और फुर्सत में रहेंगे, हमने झट से उनको रायपुर में ही एक प्रेस कॉंफ्रेंस की पेशकश मिल बैठने की गुजारिश कर दी, जिसे स्वीकार कर लिया

लेख का मूल्यांकन करें

अलबेला खत्री के साथ छत्तीसगढ़ के कुछ ब्लॉगरों की मस्ती” पर 19 टिप्पणियाँ

  1. बहुत बढ़िया रिपोर्टिंग..अलबेला जी का रंग और अलबेला हो गया होगा जब मिल बैठे होंगे आप लोगों के संग.

  2. ये ही जिन्दगी के मेले है,
    कभी सबके साथ तो,कभी अकेले है,
    पावला जी तुहाडा जवाब नही,सोणी रिपोर्ट लगाई हैगी,
    "सारे मजे ले लो जिन्दगी दे मेले दा
    पता नई होन्दा आण वाले मेले दा"

  3. suppleementary : इस किस्से में 28 सितम्बर का किस्सा कुछ और बचा है । 28 तारीख को भिलाई में अलबेला जी वैशालीनगर के कविसम्मेलन में शामिल हुए ,संचालन का दायित्व उन्ही का था सो माइक पर पूरा कब्ज़ा , हज़ारों की भीड में उन्होने गर्जना की कि अब कवि सिर्फ कवि नहीं रह गया है वह ब्लॉगिंग के माध्यम से पूरी दुनिया से जुड गया है और यहाँ उपस्थित शरद कोकास के हज़ारों चाहने वाले पूरी दुनिया में हैं । उन्होने भिलाई के सुविख्यात ब्लॉगर पाबला जी और अन्य को भी मंच से सम्मान दिया । अलबेला जी के इस छह दिन के प्रवास में हम लोगों ने ब्लॉगजगत के सभी लोगों को याद किया और आप सभी के बारे में ऐसे बतियाते रहे जैसे अपने परिवार के सदस्यों के बारे में बातें कर रहे हो । आप लोग भी आइये कभी अपने घर यानि कि हमारे घर । -शरद कोकास

  4. बिल्‍कुल जीवंत चित्रण .. पढकर बहुत अच्‍छा लगा !!

  5. बहुत खूब वर्णन किया है। काश हम भी होते आप के साथ।

  6. वाह वाह जी ..अलबेला जी के साथ बीते पल …कमाल की अलबेली रिपोर्ट है मजा आ गया……और मुझे तो लगता है कि छत्तीसगढ …ब्लोगगढ होता जा रहा है…बढिया है जी लगे रहिये…हम भी एक दिन आ धमकेंगे…तैयार रहियेगा……?

  7. अच्छी ब्लॉगर मीट।
    शरद कोकास को जन्म-दिन की बधाई!

  8. काश…मैँ भी आपके साथ होता ..

    बढिया रिपोर्टिंग

  9. ऐसी मेहमाननवाजी करने वाले मेज़बानों पर कौन न फिदा हो जाए…अविनाश वाचस्पति जी सुन रहे हैं…अगली ब्लॉगर्स मीट के लिेए रायपुर या भिलाई से बढ़िया जगह और क्या होगी…क्योंकि पाबला जी, शरद जी, अनिल पुसदकर जी, राजकुमार ग्वालानी जी और ललित शर्मा जी एक सुर में जो कह रहे हैं…हम हैं ना…

  10. बिल्कुल खुशदीप जी।जब चाहे आयें,स्वागत है इस गरीबों की अमीर धरती पर,यंही पर शबरी ने रामजी का स्वागत किया था हमसे भी जो बन पडेगा,जैसा बन पडेगा स्वागत करेंगे और सैर भी करायेंगे इस अबूझ धरा की।

  11. बहुत सुंदर लगा आप सब का मिलन, चित्र भी बहुत सुंदर लगे, काश कभी हम भि इस तरह मिल बेठे… शार्द जी को जन्म दिन की बहुत बहुत बधाई ओर इस सुंदर लेख के लिये आप का धन्यवाद

  12. छत्तीसगढ़ तो वैसे भी मेजबान नंबर वन है। यहां चाहे खेलों के आयोजन हों या फिर राजनीति के या और कोई हर आयोजन में छत्तीसगढ़ ने मेजबान नंबर वन का ताज पाया है, अगर छत्तीसगढ़ को ब्लागर सम्मेलन की मेजबानी का मौका मिला तो यकीन मानिए यहां भी हम मेजबान नंबर वन ही होंगे। बस आप लोग मौका तो दें।

  13. ऐसी रिपोर्टिंग जैसे कि लाइव्ह कमेंट्री!!!

  14. इस शानदार रिपोर्टिंग पर बधाई आपको, पढकर ही मजा आगया.

    रामराम.

  15. वाह जी खूब मजे!!तभी में सोचूं आजकल अलबेलाजी कहाँ रम रहें हैं !! वो तो मिलन आनंद में लगे हुए हैं !! बधाई हो !!

  16. ਠੇਠ ਪੰਜਾਬੀ ਗੱਲਬਾਤ ਕੀਤੀ..ਮਤਲਬ ਸ਼੍ਰੀ ਅਲਬੇਲਾ ਜੀ ਵੀ ਪੰਜਾਬੀ ਜਾਣਦੇ ਹਨ। ਇਸ ਸ਼ਾਨਦਾਰ ਪੋਸਟ ਅਤੇ ਗੱਲਬਾਤ ਸਾਂਝੀ ਕਰਨ ਦੇ ਲਈ ਤੁਹਾਡਾ ਬਹੁਤ ਬਹੁਤ ਧੰਨਵਾਦ। ਮਿਲਦੇ ਰਹਿਣ ਯਾਰ ਬੇਲੀ, ਲੱਗਦੇ ਰਹਿਣ ਮੇਲੇ।

    अनुवाद..
    ठेठ पंजाबी वार्तालाप की, मतलब श्री अलबेला जी भी पंजाबी जानते हैं। इस शानदार पोस्ट एवं वार्ता को हमारे साथ बांटने के लिए धन्यवाद। मिलते रहें यार, लगते रहें मेले

  17. बढ़िया ब्लॉगर मीट रही आप सब की ! बहुत बहुत बधाईयां !

इस लेख पर कुछ टिप्पणी करें, प्रतिक्रिया दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *


टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ