इंटरनेट के ब्लैक होल मिले

जिस तरह हम सुनते आए हैं कि आकाश में स्थित ‘ब्लैक होल’ बड़े-बड़े तारों को निगल जाता है ठीक उसी तरह इंटरनेट पर मौजूद समस्या रुपी ब्लैक होल रोज जाने कितने ही इंटरनेट सर्वरों को अज्ञात कारणों से खराब कर देता है।

आने वाले कल में यह समस्या अब शीघ्र ही दूर होने वाली है क्योंकि वाशिंगटन विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने हब्बलनामक एक तकनीक विकसित कर ली है जो इंटरनेट पर मौजूद सभी खामियों का पता लगाकर उन्हें एक वेबसाइट पर उपलब्ध करा देती है।

यह वेबसाइट हर 15 मिनट पर अपडेट की जाती है। इसमें समस्या से संबंधित पूरी जानकारी रहती है।

शोधकर्ता अरविंद कृष्णमूर्ति ने बताया, ”जब हमने यह परियोजना शुरू की तब हमें पता नहीं था कि कंप्यूटरों के इंटरनेट में इतनी सारी समस्याएं आती हैं। हम समस्याओं को देखकर आश्चर्य चकित थे।’

आप भी यह वेबसाईट देखिये और इंटरनेट के ब्लैक-होल्स का परिचय लीजिये।

internet-black-holes-bspabla

*** कालान्तर में वह वेबसाइट बंद हो गई जिसके बारे में बताया गया. अब एक नई वेबसाइट है जिसे यहाँ क्लिक कर देखा जा सकता है.

इंटरनेट के ब्लैक होल मिले
5 (100%) 3 votes

एक टिप्पणी on “इंटरनेट के ब्लैक होल मिले

इस लेख पर कुछ टिप्पणी करें, प्रतिक्रिया दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *


टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ