…और एंड्रायड खो जाए!

एंड्रायड आधारित मोबाईल फोन के खो जाने या चोरी हो जाने की स्थिति में उसका नियंत्रण कैसे किया जाए, चोर कैसे पकड़ा जाए इसकी जानकारी देता विस्तृत लेख

दो दिन पहले बातों ही बातों में तीसरा खंबा के संचालक दिनेशराय द्विवेदी जी ने जानकारी दी कि उनके पास भी अब एंड्रायड आधारित फोन आ गया है जिसे समझने की कोशिश में हैं वे.

वे बता ही रहे थे कि कितने ही फीचर्स हैं फोन में, खूबसूरत भी है. एक ठहाके के साथ उन्होंने अपनी चिंता जाहिर कर दी कि ऐसा फोन कहीं खो जाए तो बहुत दिक्कत होगी.

इतना सुनते ही मुझे उनके एक – दो वाक्ये याद आ गए जब वे अपना मोबाईल फोन कहीं एख कर भूल गए थे और एक बार वाईब्रेशन की अवस्था में सोफे की गद्दियों के बीच दबा रह गया था नन्हा यंत्र

मैंने झट से उन्हें कह दिया कि आपके लिए एक लेख लिख देता हूँ देखिएगा उसे, भले ही किसी और साथी ने लिखा होगा हिंदी में. द्विवेदी जी का ज़वाब आया कि आप तो लिख ही दीजिये. सबकी शैली अलग अलग होती है.

दरअसल, आजकल भाग-दौड़ वाले समय में मोबाईल खो जाना या चोरी हो जाना यकायक सारे कार्य अव्यवस्थित कर देता है. हालांकि इस मामले में बहुत से वैधानिक और भुगतान वाले विकल्प मौजूद हैं लेकिन जब तक कोई परिणाम निकले तब तक तो ना जाने कितना कुछ घट चुका होता है.

एंड्रायड lost

मैं जिस सुविधा की बात कर रहा हूँ वह बिलकुल नि:शुल्क है, स्थापित करने में आसान है. हाँ, उन्नत संस्करण में कुछ ऎसी विशिष्ट सुविधाएं उपलब्ध हैं, जिनकी आवश्यकता एक सामान्य उपभोक्ता को शायद ना ही हो.

अब कल्पना की जाए कि वाइब्रेशन की अवस्था में, आपका मोबाईल हैंडसेट सोफे की गद्दियों के बीच कहीं पडा रह गया है तो क्या होगा?. आप किसी अन्य फोन द्वारा अपना नंबर डायल करेंगे. बहुतेरी कोशिश कर लें लेकिन घंटो भी लग सकते हैं उसके मिलने में. किन्तु इस सुविधा से लैस किसी एंड्रायड फोन को पलक झपकते ‘देखा-सुना’ जा सकता है. बशर्ते आपके पास कार्यरत इंटरनेट युक्त ब्राऊज़र उपलब्ध हो.

ब्राऊज़र के सहारे आपका फोन कहीं भी होगा, उस पर एक तीखा सायरन बजने लगेगा और उसकी स्क्रीन तेजी से जलती बुझने लगेगी, अब भले ही वह आपके कमरे में हो या ऑफिस में कहीं छूट गया हो, वाइब्रेशन में होने के बावजूद अपनी पूरी आवाज़ में यह सायरन 3 सेकेण्ड से 2 मिनट तक बजाया जा सकता है. सायरन बंद होने के बाद फिर वापस वाईब्रेशन मोड 🙂 सायरन की आवाज़ व प्रकार के लिए आप अपने फोन पर अलग से कोई फाईल भी डाल सकते हैं

अब मान लीजिये आपको शक है कि पास बैठे किसी परिचित ने उसे चुपचाप जेब में रख लिया है, तो बिना कोई शोर पैदा किये उस फोन को 1 से 20 सेकेण्ड की अवधि तक वाईब्रेट करवा कर चौंकाया जा सकता है. एक संदेश भेजकर उन्हें विनम्र अनुरोध किया जा सकता है कि मेरा फोन वापस कर दो.

एंड्रायड message

अब बात न बने तो एक क्लिक कीजिए, गूगल के मानचित्र पर आपके फोन की संभावित भौगोलिक स्थिति आपके सामने ब्राउज़र पर होगी. यह स्थिति आपके फोन के जीपीएस को जबरन चालू करवा कर ली जायेगी, भले ही जीपीएस पहले से ही बंद हो. अगर जीपीएस ना हो तो मोबाईल टावर की स्थिति के अनुसार मिलेगी और अगर नेटवर्क ही ना हो तो अंतिम नेटवर्क स्थान की सूचना मिलेगी.

आप चाहें तो मोबाईल के लगातार बदलते स्थान पर नज़र रखने के लिए हर 5 मिनट के अंतराल में अपने आप ही अपडेट मिलते रहेंगे. एक बार के निर्देश पर अधिकतम 30 अपडेट लगातार लिए जा सकते हैं

एंड्रायड location

ये तो थी मूल सुविधा. अब अगर फोन चोरी हो गया है एकदम से आपको उसका IMEI नंबर नहीं मिलेगा और उस बेचारे फोन का हालचाल भी तो जानना है.एक क्लिक कीजिए फोन की बैटरी कितनी बची है, चार्जर लगा है कि नहीं, IMEI क्या है, इस वक्त उसमे किस कंपनी का सिम है, सिम का 20 अंकों वाला नंबर क्या है, सक्रिय वॉयस मेल नंबर क्या है, सब्स्क्राईबर आईडी क्या है, फोन किस आईपी पर चल रहा. नेटवर्क किस तरह का है (3जी/वाईफाई), रोमिंग पर है कि नहीं?

यह सारी जानकारियाँ एक साथ, समय का उल्लेख करती रिपोर्ट में चंद सेकेण्ड के भीतर अपने ब्राऊज़र पर पायें. साथ ही साथ फोन की रिंगटोन, ब्लूटूथ, जीपीएस, वाई-फाई को बंद करें या फिर चालू करें.

एंड्रायड report

संकट अभी टला नहीं क्योंकि फोन अभी मिला नहीं. इधर संवेदनशील मुद्दे अटके पड़े हैं. तो अपने ब्राऊज़र से अपने चाहने वालों को एस एम एस भेजिए कि आपका फोन खो गया है/ चोरी हो गया है कृपया उस पर कॉल ना करें या फलां नंबर पर कॉल करें. यह एस एम एस आप ही के उस नंबर से भेजा जाएगा जिस नंबर का फोन खो गया है. 🙂

चिंता यह भी है कि पता नहीं कौन कौन से ज़रूरी एस एम एस अब तक उस गुम हो चुके फोन पर आये होंगे या जिसके हाथ फोन लगा है ना जाने उसने किसको क्या एस एम एस भेजे होंगे. तो ज़नाब एक क्लिक पर आप, आने जाने वाले पिछले 50 एस एम एस का मज़मून और उनके नंबर अपने सामने ब्राऊजर पर पा सकते हैं. यही किस्सा पिछली अधिकतम 50 आने जाने वाली कॉल्स की रिपोर्ट पाने का भी है.

अब भी बात ना बने तो एक सामान्य सा संदेश भेजिए, जैसे कि No Network या फिर Low on Memory . यह संदेश फोन की स्क्रीन पर उभरेगा और जहां उस बंदे ने OK बटन दबा कर उस संदेश को खारिज किया (अगर फ्रंट कैमरा है तो) उसकी फोटो खिंच जायेगी जो कि कुछ सेकेण्ड में ही आपके सामने होगी. अब तो ‘चोर’ पकड़ा गया!

यह भी तो हो सकता है फोन किसी सज्जन के हाथ लग गया हो और वह परेशान सा भटक रहा हो कि यार ये फोन जिसका है उसे कैसे लौटाया जाए. ऎसी स्थिति में अपने ब्राऊजर से निवेदन करता एक ऐसा संदेश भेजें जो आपकी जानकारी देता हो जैसे कि This Phone belongs to Ajay Kumar. Please contact him on 987654…. . यह संदेश फोन को स्टार्ट करते हुए भी दिखाया जा सकता है या फिर काम करते फोन की स्क्रीन पर लगातार दिखता रह सकता है.

एंड्रायड lost

अब भई कहाँ तक इसकी बात करता रहूँ. इसके द्वारा आप अपने फोन लॉक कर सकते हैं, अनलॉक कर सकते हैं, (लॉक कोड आप चुनेंगे), कोई संदेश दे कर फोन से (फिलहाल अंग्रेजी में) चीख-पुकार लगवा सकते हैं, जैसे I am lost. Please pick me up,

चोरी हो गया है तो, उस नंबर पर आने वाली कॉल्स किसी दूसरे नंबर पर भेजी जा सकती हैं, फोन के आसपास की आवाज़े रिकॉर्ड कर सुनी जा सकती हैं. (अधिकतम 2 मिनट) और किसी की जासूसी करना चाहते हैं तो फोन रख दीजिये कहीं और उसके आसपास की अधिकतम 1 घंटे की रिकॉर्डिंग, फोन के मेमोरी कार्ड से ले लीजिये. चाहें तो उपयोग करने वाले की फोटो अगले कैमरे से लीजिये या उसके सामने का दृश्य पिछले कैमरे से लीजिये

मेमोरी कार्ड का सारा डाटा मिटाया जा सकता है (सावधान! डाटा मिटाने के पहले अनुमति मांगती कोई चेतावनी नहीं दी जाती, आपने ब्राऊजर पर क्लिक किया, सब खल्लास), सारा फोन ‘साफ़’ किया जा सकता है (कोई चारा ना बचे तभी यह कदम उठायें)

अब आप भी सोचेंगे कि यार! फोन किसी जानकार के हाथ लग गया तो सबसे पहले तो वह यही देखेगा कि ऎसी कोई चालबाजी मौजूद तो नहीं फोन पर, तो शांत हो जाईये, इसे एप्लीकेशन को आप जब चाहो फोन पर छुपा सकते हैं जब चाहो देख सकते हो.

वैसे तो यह सब करामात फोन पर इंटरनेट की सुविधा होने से आसान होती है लेकिन किसी कारण इंटरनेट ना हो तो सामान्य एस एम एस से भी गुजारा हो जाएगा. 🙂

आप भी सोच रहे होंगे अब इतना कुछ बता चुका.लेकिन यह नहीं बताया कि ये है क्या बला!

असल में सारा खेल एक एंड्रायड एप्लीकेशन से संभव है जिसे जीमेल खाते की आईडी से संबद्ध कर स्थापित किया जाता है और इसकी वेबसाईट पर ऊपर बताये गए सारे नियंत्रण मौजूद है.

वैसे तो इसका फोन पर स्थापित होना आवश्यक है ही, किन्तु यदि फोन खो जाने के बाद आपको होश आता है तो खो चुके फोन पर भी इसे स्थापित किया जा सकता है, बस एक-दो क्लिक अतिरिक्त लगेंगे.

यह एप्लीकेशन टेबलेट्स पर भी काम करता है, एक ही खाते पर कई फोन नियंत्रित किये जा सकते हैं. इतना तो आप जानते ही होंगे कि एंड्रायड आधारित फोन का किसी गूगल खाते से जुड़ा होना सामान्य बात है.

इसे गूगल प्ले पर इस कड़ी पर क्लिक कर पाया जा सकता है और वहीं से सीधे फोन पर स्थापित भी किया जा सकता है.और यह रही उसकी वेबसाईट की कड़ी

मेरा ख्याल है अब द्विवेदी जी राहत की साँस ले रहे होंगे, लेकिन आप क्या खुश नहीं है इस जानकारी से?

…और एंड्रायड खो जाए!
4.1 (82.86%) 14 vote[s]

20 comments

  • आप कह रहे हैं कि द्विवेदी जी चैन की साँस ले रहे होंगे। इस लेख को पढ़ कर तो साँसे ऊँची नीची हो गईँ। अब इस एप्लीकेशन पर जा कर इसे भी पढ़ना पड़ेगा। अभी तो फोन ही समझ नहीं आ रहा है। खैर! समझ ही लेंगे जी।
    लेख बहुत अच्छा है और इतने अच्छे मूड में लिखा गया है कि इस के मूल्यांकन के लिए १० की जगह पूरे १०० नंबर देना चाहता था पर १० से ज्यादा देने की इजाजत नहीं है।
    नवसंवत्सर पर बहुत बहुत बधाइयाँ जी।
    परसों फिर बैसाखी भी है। फिर से एक नया साल।

  • ali syed says:

    नंबर तो पूरे दे दिए पर दिमाग घूम गया …पहले आप ये बताइये कि एन्डरायड फोन क्यों खरीदा जाए ? पर कोई लेख कब लिखियेगा 🙂

    • बी एस पाबला says:

      पहले पता तो चल जाए कि फोन खरीदा ही क्यों जाए 🙂

  • ePandit says:

    ऐसी सुविधायें ऍण्ड्रॉइड में इनबिल्ट ही होनी चाहिये। ऍप को कोई जानकार व्यक्ति अनइंस्टॉल कर सकता है। ऐसी सुविधा इनबिल्ट हो जिसमें बदलाव आदि पासवर्ड देकर ही किया जा सके। अगर फोन का सिम बदल दिया जाय और इंटरनेट बन्द कर दिया जाय तो शायद यह ऍप कुछ मदद नहीं कर सकती।

    मुझे इंटैक्स के अपने एक देसी सस्ते फोन का मोबाइल ट्रैकर बहुत याद आता है। फोन में जब भी नया सिम डाला जाता था तो एक SMS गुप्त रूप से एक पहले से फिक्स किये गये नम्बर पर चला जाता था कि फोन में फलाँ नम्बर का सिम डाला गया है। उस फिक्स नम्बर को बदलने के लिये जो सैटिंग थी वो पासवर्ड डालकर ही खुलती थी। भले ही उसमें जीपीऍस से ट्रैक करने जैसी सुविधा न थी पर चोर कभी भी आराम से नहीं रह सकता था। जो भी सिम वह डाले उसका नम्बर आपके पास होता।

    ऐसी सुविधा हर फोन में होनी चाहिये। जब इंटैक्स जैसी छोटी कम्पनी अपने सस्ते से फोन में दे सकती है तो दूसरी कम्पनियाँ क्यों नहीं।
    टिप्पणीकर्ता ePandit ने हाल ही में लिखा है: नैक्सस ७ टैबलेट भारत में आधिकारिक रूप से जारी, प्रीबुकिंग शुरु @₹१६,०००My Profile

    • बी एस पाबला says:

      सिम बदलने पर सूचना देने का जुगाड़
      तो कई हैडसेट्स पर मिल जाता है, पासवर्ड की सुविधा सहित
      और इस एप्लीकेशन को
      आने वाले नेक्सस पर सम्मिलत किये जाने की जानकारी मिल रही

  • लेख तो बल्ले बल्ले है ही , श्रीश जी की बातों से भ्ी सहमत हूं
    टिप्पणीकर्ता काजल कुमार ने हाल ही में लिखा है: कार्टून :- सुना है कि ये संबोधन पसंद नहीं आए !!!My Profile

  • बढ़िया जानकारी है, हमने भी अभी एक एन्ड्रायड फ़ोन लिया है, यह ऐप अभी उस पर डालते हैं ।

  • अच्छी जानकारी है.
    टिप्पणीकर्ता indian citizen ने हाल ही में लिखा है: दोष किसका.My Profile

  • आईफ़ोन में यह सुविधा ओएस में ही दी गयी है, आईक्लाउड के माध्यम से।

  • बहुत बढ़िया ज्ञानवर्धक लेख | मैं भी जल्दी ही एंड्राइड फ़ोन ले रहा हूँ तो यह एप्लीकेशन डाल कर देखते हैं क्या चमत्कार होता है |
    आभार

  • Shivam Misra says:

    सर जी लगभग २ साल से एंड्राइड इस्तमाल कर रहा हूँ पर इस बारे में कभी सोचा ही नहीं !

    आज आपने बेहद उम्दा और उपयोगी जानकारी दी है … जल्द ही इसको ट्राइ करता हूँ !
    टिप्पणीकर्ता Shivam Misra ने हाल ही में लिखा है: ताकि हम उन्हें भूल न जाएँ – जलियाँवाला बाग़ के अमर शहीदों की याद मेMy Profile

  • Vivek Sao says:

    बहुत ही जबरदस्त और लेटेस्ट जानकारी एंड्राइड फ़ोन और app के बारे में. काफी सारे लोगों के पास है मगर लोगो को पता ही नहीं उपयोग कैसे करें इसे पढ़कर शायद वो जाग जाएँ….

  • Sushil Chhokar says:

    बेहद ही अच्छी जानकारी।

  • nitesh sharma says:

    बढ़िया उपयोगी जानकारी देने के लिए शुक्रिया..जितनी बार ब्लॉग पढता हूँ एक नयी जानकारी हाथ लगती है.
    में एंड्राइड के साथ साथ नोकिया लुमिया 800- सॉफ्टवेर version विंडोज 7.8 उपयोग करता हूँ. उसके लिए भी कोई उपयोगी app बताएं।

  • Rajiv says:

    मेरा नोकिया X खो गया है। क्या करूं???

    • बी एस पाबला says:

      Pondering
      करना क्या है, पुलिस में रिपोर्ट लिखाईये
      सिवाय नए सिम मिलने के होना कुछ नहीं

  • वाकई सर जी “कम्पयूटर तेज तो हो सकता है किंतु आपसे प्रतिभाशाली आपसे ज्यादा नही” ऐसी दुर्लभ जानकारी देने के लिये आपका दिल से शुक्रगुज़ार हूँ…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ
[+] Zaazu Emoticons Zaazu.com