दिन है सुहाना, खुश है जमाना, आज पहली तारीख है …

आज सुबह सो कर उठा तो ध्यान आया कि आज पहली तारीख है। हालांकि इस तारीख का आना, एक सामान्य सी बात है लेकिन, एकाएक रेडियो सीलोन (आजकल इसे श्रीलंका ब्रॉडकास्टिंग कार्पोरेशन कहा जाता है) पर, हर महीने की पहली तारीख की सुबह बजने वाले एक गीत की याद आ गयी। बचपन से सुनते चले आ रहे गीत को, किशोर कुमार जी ने बड़े ही खिलंदड़े अंदाज में आवाज दी है। एक आम वेतनभोगी मानव की, तनख्वाह मिलने वाले दिन की भावनायों का बखूबी वर्णन मिलता है, इस गीत में।

 
मुझे याद है कि इस गीत का प्रसारण, सुबह 6:30 या 7:30 पर होता था। आज काफी कोशिश करने के बाद भी, रेडियो सीलोन पर सुनते चले आ रहे इस गीत को इस एफ एम के जमाने में शॉर्ट वेव पर सुन पाना संभव नहीं हो पाया। जब इंटरनेट पर इस गीत की खोज की तो यह मिला एम पी 3 गानों की वेबसाईट www.mp3joy.com पर।
 
सोचा, आपसे भी यह चुलबुला गीत बाँट लिया जाये। सुनिये।

(दिन है सुहाना, खुश है ज़माना, आजपहलीतारीख़है!)
दिन है सुहाना, खुश है जमाना, आज पहली तारीख है …
लेख का मूल्यांकन करें
Print Friendly, PDF & Email

मेरी वेबसाइट से कुछ और ...

दिन है सुहाना, खुश है जमाना, आज पहली तारीख है …” पर 6 टिप्पणियाँ

  1. वाह साब “आज पहली तारीख है ” पुरानी यादे तरोताजा कर दी . पहले एक तारीख का बड़ा इंतजार रहता था कि उस दिन वेतन हाथो में मिलेगा पर वह ख़ुशी नहीं रहती है क्योकि वेतन कोर बेंकिंग के जरिये सीधे खाते में जमा हो जाता है . आभार बढ़िया प्रस्तुति के लिए .

  2. बढ़िया गाना। पहले बहुत सुना करते थे।

  3. जानदार और शानदार गाना है जी। पर हमरै तो जिस दिन फीस मिलै वही पहली है जी।

  4. पावला जी बहुत अच्छा लगा, पुराने दिन याद दिला दिये, जब काफ़ी छोटे थे तो यह सुन कर खुश होते थे, आज फ़िर से वो ही खुशी एक बार फ़िर से आप के दुवारा मिल गई.
    धन्यवाद

  5. बहुत सुंदर….ये गाना हम बचपन से सुनते aae है ….बहुत खूब

  6. पाबला साहब, कई दिनों बाद ये गाना सुन कर दिल खुश हो गया. वैसे मेरे ब्लॉग पे भी ये गीत आप को मिलेगा आप को … यहाँ :
    http://kisseykahen.blogspot.com/2008/03/blog-post.html

    भिलाई का नाम देख के रहा न गया …. मैं भी भिलाई इस्पात संयंत्र में काम कर चुका हूँ …. १९९९ में कलकत्ता आ गया था …. कभी भिलाई आना हुआ तो ज़रूर मिलूंगा आप से …

इस लेख पर कुछ टिप्पणी करें, प्रतिक्रिया दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *


टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ
Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
[+] Zaazu Emoticons