बचो! फेसबुक है धोखाधड़ी वाली वेबसाईट!! Norton ने कहा

पिछले माह 20-21 सितंबर की आधी रात को जब मैंने अपनी इस वेबसाईट को ऑनलाइन किया तो कुछ ही मिनटों के अन्दर एक ब्लॉगर साथी की शिकायत मिली कि आपकी वेबसाईट को खतरनाक घोषित कर रहा है गूगल! मैं इस बात से चौंका, लेकिन शिकायत सही मिली Google Chrome पर। गूगल तक दौड़ लगाईं तो उसने नकार दिया कि ऐसा कुछ हमारी ओर से नहीं है।

मैं हैरान-परेशान।  वो तो बाद में पता चला कि हैकर्स के पिछले हमले के निशान अभी तक मिटे नहीं थे सो यह गड़बड़ी दिखाई दी। बाद में मुझे हँसी भी आई अपनी हड़बड़ाहट पर! अरे भाई एक बार तो दुनिया भर में खुद गूगल क्रोम रोक रहा था गूगल की वेबसाईट पर जाने से कि मत जाओ वहाँ खतरा है 🙂

लेकिन अभी दो दिन पहले जब लोगों को चेतावनी मिलने लगी कि फेसबुक एक जालसाजी वाली वेबसाईट है इस पर ना जाएं आपको नुकसान हो सकता है तो दुनिया भर में हंगामा हो गया। फर्क इतना था कि यह चेतावनी उन Norton इस्तेमाल करने वालों को मिल रही थी जिन्होंने ताज़ा अपडेट किया था अपने Internet Security Software या आसान भाषा में कहें तो एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का।

facebook block bspabla

 

हुया यह कि Symantec  ने अपने सुप्रसिद्ध सॉफ्टवेयर Norton को अपडेट किया तो उसके डाटाबेस में ऐसे कुछ कोड थे जिन्होंने अपने मशीनी हिसाब से Facebook के लिए चेतावनी देनी शुरू कर  दी और Norton इंटरनेट सिक्योरिटी उपयोगकर्ताओं को इस सामाजिक नेटवर्किंग साइट तक पहुँचने से अवरुद्ध किया यह कहते हुए कि यह फेसबुक एक “धोखाधड़ी वाला वेब पेज” है। मशीन तो मशीन है वह अपने हिसाब से वही काम करेगी जो उसे करने के लिए कहा गया है भले ही हम मानवों को लगे कि वह गलती कर रही है।

 

norton-facebook-block-bspabla
ब्राउज़र पर Norton द्वारा चेतावनी देते लिया गया चित्र

 

हालांकि Symantec ने अपडेट से प्रभावित हुए उन बेचारे, चकित, इस पेंच से व्यथित उपयोगकर्ताओं को कुछ ही घंटों के भीतर स्थिति भांप कर समस्या का जवाब दिया और अपने नॉर्टन सॉफ्टवेयर के लिए जारी किया गया वह अपडेट वापस ले लिया जिसने फेसबुक को जालसाजी वाली वेबसाईट घोषित किया था। उन्हें भी तब पता चला जब Symantec फोरम पर जम कर हंगामा हुआ।

अब भले ही लोग इसे मजाक में लें लेकिन Facebook उपयोग करने वालों को एक झटका तो मिला ही है कि यह सच्ची मुच्ची में एक ऎसी वेबसाइट है जिस पर भरोसा नहीं करना चाहिए। दुनिया भर के सचेत आलोचक कहते रहे हैं कि फेसबुक के एक टुकडे की भी तुलना, धोखाधड़ी वाली जाली बैंकिंग वेबसाइट से की जा सकती है जो बिना व्यक्ति की जानकारी के उसकी  व्यक्तिगत जानकारी ले लेती है। ऐसे ही आरोप लगाते हुए, हैकरों के एक गुट ने 5 नवम्बर को फेसबुक पर हमला कर बंद करने की धमकी भी दी थी।

इंटरनेट सुरक्षा फर्मों द्वारा उनके ऐसे Antimalware, Antivirus अपडेट अक्सर आते रहते हैं जो दुष्ट प्रवृत्ति के सॉफ्टवेयर, संदिग्ध वेबसाइटों का पता लगाने के क्रम में जारी किए जाते हैं।  बेशक यह गुणवत्ता की दृष्टि से अच्छे प्रयास होते हैं लेकिन ऎसी  गलतियों हो जाती है, जिसे इस फेसबुक वाले मामले में कह सकते हैं कि ‘किसी ना किसी बहाने दिल की बात जुबां पर आ ही जाती है।’  😀

आप क्या कहते हैं?

बचो! फेसबुक है धोखाधड़ी वाली वेबसाईट!! Norton ने कहा
5 (100%) 1 vote[s]

14 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ
[+] Zaazu Emoticons Zaazu.com