मोबाईल फोन में प्रोजेक्टर: ५ फुट की स्क्रीन पर पसंदीदा फिल्म देखिये

क्या आप अपनी पसंदीदा पिक्चर देखने या नेट सर्फिंग के लिए किसी सिनेमा हॉल, टीवी या कंप्यूटर स्क्रीन का सहारा लेते हैं? यदि आपका जवाब हाँ है तो सोचिये, आप किस दुनिया की बात कर रहें हैं? अब तो बस आपको जरूरत होगी किसी भी सपाट सतह की, वह आपकी केबिन का कोना हो सकता है, डायरी हो सकती है या फिर पिज्जा का डिब्बा भी। सुनने में अजीब जरूर लग रहा है, लेकिन बहुत जल्दी यह सुविधा भी मोबाइल फोन की तरह आम हो जाएगी।

यह कमाल होने वाला है एक जेब में रखे जा सकने वाले प्रोजेक्टर के आने से। इन प्रोजेक्टर्स को मोबाइल या portable media player में लगा कर इनसे निकलने वाली किरणों को किसी भी सपाट सतह पर फोकस करके मनचाही विडियो देखी जा सकेगी। फिलहाल, नमूने के तौर पर तैयार इन माइक्रोप्रोजेक्टर्स में LED या LASER का इस्तेमाल होता है। इनकी सहायता से अंधेरे में 50-60 इंच या कम उजाले में 7-20 इंच चौड़ा डिस्प्ले देखा जा सकता है

एक समय में प्रोजेक्टर बहुत भारी होते थे। लेकिन जेब में समा जाने वाले ये प्रोजेक्टर आपको ‘बिग स्क्रीन’ का ही आनंद दिलाएंगे। उम्मीद की जा रही है कि इनके कुछ मॉडल साल के आखिर तक मार्केट में आ जाएंगे। इनसाइट मीडिया के मैथ्यू एस. ब्रेन्नेशुल्टज के मुताबिक इनकी शुरुआती कीमत 12 से 14 हजार रूपये होगी। इन प्रोजेक्टर का इस्तेमाल खासतौर पर बिजनेस प्रेजेंटेशन में होगा। मसलन, अगर आपको अपनी ग्रुप मीटिंग में कोई विडियो प्रेजेंटेशन देना है, तो किसी बड़े ताम-झाम की जरूरत नहीं है। आपको चाहिए सिर्फ आपके केबिन की दीवार का छोटा सा हिस्सा, फोल्डर का कवर यहां तक कि नैपकिन का टुकड़ा भी चलेगा।

रिसर्च फर्म गार्टनर की रिसर्च डायरेक्टर कैरोलिना मिलानेसी का अंदेशा है कि सार्वजनिक स्थानों में इन्हें प्रयोग करने से कुछ परेशानियां आ सकतीं हैं। मैथ्यू के मुताबिक हाल फिलहाल तो इन प्रोजेक्टर्स को केबल की सहायता से मोबाइल फोन से जोड़ कर प्रयोग किया जाएगा। बाद में हो सकता है कि ये मोबाइल में ही फिट होकर आएं, जिस तरह आज कैमरे आते हैं। इस तकनीक के विकास के पीछे मोबाइल फोन सेवा देने वालों का बड़ा हाथ है।

एक दक्षिण कोरियाई फर्म जिन डीएसपी की बिजनेस टीम के लीडर जिनवू का कहना है ‘वॉयस मेल सेवाओं से अब फायदा होना बंद हो गया है। इसी वजह से विडियो कंटेंट की तरफ लोगों का ध्यान गया है।’ इस माइक्रोप्रोजेक्टर का इंजन बनाने वाली कंपनी 3एम के मुताबिक उसके बनाए इंजन इस साल से बाजार में आ जाएंगे। इन्हें एमपी3 प्लेयर की तरह इस्तेमाल किया जाएगा।

अब तक आप दूसरों के मोबाइल पर हो रहीं बातें सुनकर परेशान थे, लेकिन हो सकता है कि अब आपको दूसरों की पसंद की फिल्में या यू ट्यूब के गाने देखने पड़ेंगे। यह भी हो सकता है कि आने वाले कल में आपको पब्लिक प्लेसेस पर ‘नो प्रोजेक्टर प्लीज’ की चेतावनी भी देखने को मिल जाए।

उत्सुकता अगर अभी भी शांत न हुयी हो तो, यहाँ देखें और यहाँ भी!

मोबाईल फोन में प्रोजेक्टर: ५ फुट की स्क्रीन पर पसंदीदा फिल्म देखिये
5 (100%) 1 vote
Print Friendly, PDF & Email

मेरी वेबसाइट से कुछ और ...

मोबाईल फोन में प्रोजेक्टर: ५ फुट की स्क्रीन पर पसंदीदा फिल्म देखिये” पर 2 टिप्पणियाँ

इस लेख पर कुछ टिप्पणी करें, प्रतिक्रिया दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *


टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ
Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
[+] Zaazu Emoticons