सपने में दिखी जगह पर पहुँच गए अचानक

दशकों से साथ रहे मेरे एक मित्र अक्सर कहते हैं कि दुनिया में जो अनोखा होता है तेरे साथ ही होता है. और कई बातों को उनहोंने सामने रख कर…

जब अचानकमार बदमाशों ने अँधेरे जंगल में हमारा पीछा किया

नई नई आई कायनेटिक होंडा पर सवार हो  जनवरी 1989 के आखिरी दिनों में श्रीमती जी और ढाई वर्षीया बिटिया संग चाचा जी के परिवार के साथ दो दिन बिता…

  • DIWAKAR SHARMA

    बी. एस. पाब्ला जी मै अभी (काम के सिलसिल...

  • Arunesh dave

    मै तो शीर्षक पढ़ कर चक्कर मे ही आ गया थ...

23 साल, वो डरावनी रात और पहाड़ों पर अकेली लड़की से मुलाक़ात

अमरकंटक के पहाड़ों पर एक डरावनी रात के वक्त हुई मुलाक़ात एक युवती से

  • Puneet_Goel

    यह एक बहुत ही दुखदायी कहानी है .देसीख...

  • SUJEET MAURYA

    it's very horrorful story....

गोदी में उठाकर होटल के अंदर, ब्रांडी के घूँट और वो खिलखिलाहट…

कडकडाती ठण्ड में जब होटल के अंदर गोदी में उठा कर ले जाना पड़ा उनको

  • बी एस पाबला

    :Smile: ये गूगल की करामात है अपनी मर्जी ...

  • chander kumar soni

    बहुत अच्छा और रोमांचक लेख लिखा हैं आ...

उस नन्हीं सी जान पर हम दो लोगों ने बड़ा जुल्म किया

एक नन्ही सी जान पर जुल्म किया हम दो जवानों ने

दिल्ली की ओर रवानगी – होगी मुलाक़ात ब्लॉगरों से

जैसा कि ललित शर्मा बता चुके हैं, छत्तीसगढ़ की जमीं से दिल्ली जाने वाला पांच सदस्यीय दल रवाना हो चुका है। सब कुछ जाहिर करने के बावजूद वे जिज्ञासुओं के…

पिछले दिनों हुई मुलाकात कुछ ब्लॉगरों से

मित्रों ने बहुत शिकायत की कि कई दिनो से कुछ लिखा नहीं! दरअसल मंशा यह भी थी कि अब अपने ब्लॉगों को www.BSPABLA.com पर ले जाने के बाद ही कुछ…

उत्तर भारत की यात्रा: दो नौजवान ब्लॉगरों से हुई पहली मुलाकात

12 ब्लॉगरों की खुशनुमा शाम के बाद अगले दिन 20 दिसम्बर को मुझे भिलाई लौटना था। हजरत निज़ामुद्दीन स्टेशन से दोपहर 3:25 को चलने वाली ट्रेन में वातानूकूलित शयनयान का…

उत्तर भारत की यात्रा: वह खुशनुमा शाम, 12 ब्लॉगरों के नाम

एक दूसरे से पहली बार मिले चार ब्लॉगरों की 18 दिसम्बर को हुई लम्बी बैठक के बाद अजय जी के निवास पर उनकी कई कम्प्यूटर संबंधित तकनीकी उलझनों का शमन…

  • padmsingh

    वाह ! एक एक बातें अक्षरशः याद कैसे रह...

  • एस.एम.मासूम

    खूबसूरत तस्वीरों के साथ एक बेहतरीन ...

एक दूसरे से पहली बार मिले चार ब्लॉगरों की लम्बी बैठक

लुधियाना स्टेशन पर 15 दिसम्बर की दोपहर पं डी के शर्मा ‘वत्स’ जी से मुलाकात कर, 16 दिसम्बर की सुबह दिल्ली के एसीपी से पंगा लेने ना लेने का विचार…

उत्तर भारत की यात्रा: दिल्ली के एसीपी से पंगा लेने/ ना लेने का कारण

मैं चल तो पड़ा लुधियाना से शान-ए-पंजाब में सवार हो, लेकिन उसे नई दिल्ली पहुँचते इतनी देर हो गई कि मेट्रो नहीं मिली शाहदरा जाने के लिए। वहाँ मेरी बुआ…

  • ali

    डाक्टर अरविन्द मिश्र जी जो रिस्क बत...

  • खुशदीप सहगल

    सुदूर खूबसूरत लालिमा ने आकाशगंगा को...

उत्तर भारत की यात्रा: पं. डी के शर्मा ‘वत्स’ की हैरानगी से पड़ा पाला

ब्लॉगर मित्रों का लगातार यह आग्रह बना हुआ है कि उत्तर भारत की हालिया यात्रा का विवरण साझा करूँ। अब समझ नहीं आ रहा कि चाणक्यपुरी बैठक का हाल पहले…

  • ali

    वत्स जी की बढ़िया फोटो खींची हैं आपन...

  • Arvind Mishra

    चलिए पंडित जी ने कुछ देर ही आपका साथ ...