Followers गायब हो गए, क्या करूँ?

तकनीक की दुनिया में इतना कुछ चलता रहता है कि किसी ना किसी को कोई ना कोई समस्या परेशान करते ही रहती है। अब हमारे पड़ोसी शहर के ब्लॉगर मित्र को ही लीजिए। कल उनकी मेल आई कि यार एकाएक मेरे सारे Follower गायब हो गए हैं, सिर्फ एक खाली डब्बा सा दिखता रहता है मुँह चिढ़ाता सा, ऊपर लिखा रहता है Followers! मेरे ब्लॉग पर आने वाले क्या सोचते होंगे कि इसका एक भी फॉलोअर नहीं? जबकि मैं जानता हूँ कि मेरे 47 फॉलोअर थे! अब एक भी नहीं दिखता।

मैंने उनका ब्लॉग खोला, मुस्कुराते हुए उन्हें फोन किया कि आपके सभी ब्लॉगर लौट आए हैं, मुँह कड़वा करवायो! बात करते करते उन्होंने भी अपना ब्लॉग देखा और चिल्लाते हुए से बोले ‘क्यों जले पर नमक छिड़क रहे हो एक भी तो नहीं दिख रहा!‘ तब मैंने उन्हें ब्राऊज़र बदलने को कहा। थोड़ी देर बाद उनका फोन आया कि अब नए ब्राऊज़र में फॉलोअर आते हैं, बस एक झलक दिखला कर गायब हो जाते हैं।
एक ठंडी साँस भरते हुए मैंने उन्हें बताया कि गूगल बाबा ने अभी-अभी इस समस्या को स्वीकार किया है और आप जैसों से अधिक जानकारी पाने के लिए एक छोटा सा ऑनलाईन आवेदननुमा फॉर्म भी भर कर देने को कहा है जिससे उसे समस्या का कारण जानने में सहूलियत हो। आप भी उस फॉर्म में बता दो कि किस ब्लॉग़ में आपको यह समस्या मिल रही है -URL देना पड़ेगा, किस ब्राऊज़र में यह समस्या दिखती है, आपको इंटरनेट की सेवा कौन देता है -ISP का नाम लिखना होगा, अपने ब्लॉग में समस्या दिख रही या दूसरों के ब्लॉग में, आपका ऑपेरेटिंग सिस्टम क्या है -XP, Vista आदि। यह सब उस ऑनलाईन शिकायत फॉर्म में लिखकर Submit कर दो। गूगल बाबा के पास जानकारी पहुँच जाएगी। फिर भी धुकधुकी बनी रहे तो उसके स्वीकारनामे पर Report It बटन पर क्लिक कर आदेश दे दो कि जब भी इस मुद्दे पर कोई अपडेट हो तो आपको रिपोर्ट दे।
मित्र महाशय खुश हो कर फॉर्म भरने लग गए और मैं यह जानकारी बाँटने के लिए लिखने बैठ गया।
ठीक है ना?
लेख का मूल्यांकन करें

Followers गायब हो गए, क्या करूँ?” पर 9 टिप्पणियाँ

  1. ब्‍लॉग फ्लू दस्‍तक दे चुका है
    हो न हो
    पर लगता है
    ऐसा हो चुका है।

  2. फॉलोवर वही हैं। बस दिखने बन्द हो गए हैं।
    दिखना दिखाना बहुत जरूरी होता है 😉

  3. बहुत बडिया जानकारी कहीं हमारे ब्लाग को भी फ्लू हो गया तो काम आयेगी आभार्

  4. bahut badhiyaji…………..

    mere saath toh is se vipreet wali sthiti hai mere yaani main jinka anusaran kartaa hoon kabhi-kabhi ve gaayab ho jaate hain ..
    do-chaar ghante baad laut bhi aate hain ..
    lekin sawaal ye hai ki ye beech-beech me dandi maar k chale kahaan jaate hai ?

  5. हमारे ब्लोग पर भी हमें हम जिन्हें फ़ोलो कर रहे हैं उनकी पोस्ट दिखना बंद हो गई है, इसका क्या करें।

  6. डंडी मार के वही जाते हैं
    जो जानना चाहते हैं
    कहां जाते हैं
    पता लगता है कि
    उन्‍हीं का कवि सम्‍मेलन
    सुनते पाये जाते हैं।

  7. @ विवेक रस्तोगी जी

    आपकी समस्या भी इससे जुड़ी हुई है व गूगल के संज्ञान में है। उस पर कार्य चल रहा।

  8. गूगल ने अपनी पाचनशक्ति से ज़्यादा खा लिया है…इसिलए बहुत कुछ इससे संभल नहीं रहा है.

इस लेख पर कुछ टिप्पणी करें, प्रतिक्रिया दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *


टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ