HAM रेडियो और लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड

अब भले ही विविध भारती वाले युनूस खान जी इंकार कर दें, लेकिन मैं तो कहूँगा कि युनूस जी ने डाँट लगाई है यह कहते हुये कि दो पोस्ट लिख कर आगे कुछ लिखो ही ना, ये अच्छी बात नहीं है। डाँट सुनकर मुझे भी याद आया कि ज्ञानदत्त जी के ब्लॉग पर आई सतीश सक्सेना जी की आग्रहनुमा टिप्पणी के बहाने हमने एक पोस्ट लिख कर बताया था कि कि शौकिया रेडियो ऑपरेटर को HAM क्यों कहते हैं

उसकी अगली कड़ी में जिज्ञासा शांत करने की कोशिश की गयी थी कि सोनिया गांधी, अमिताभ बच्चन जैसे शौकिया रेडियो ऑपरेटर (HAM) आख़िर करते क्या हैं!?

अगली पोस्ट का संकेत देते हुये हमने कुछ और रोचक जानकारियां तथा भारत सहित, दुनिया के कुछ चर्चित व्यक्तियों की HAM पहचान (कहें तो आईडी) देने की बात की थी जिससे आप उनसे बतिया सकें! बस इसी बात को लेकर डाँट पड़ गई कि अगली कड़ी कहाँ है?

vu2yam

शौकिया रेडियो ऑपरेटर सुश्री एस यामिनी VU2YAM

लापरवाही का यह हाल है कि पिछले दिनों मीडिया द्वारा अनदेखा किया गया लिम्का बुक का रिकॉर्ड भी हमें अगली किसी पोस्ट के लिए प्रेरित नहीं कर सका था।

रिकॉर्ड यह था कि पहली बार एक 22 वर्षीया शौकिया रेडियो ऑपरेटर भारतीय युवती ने 12 सद्स्यों वाले अंतर्राष्ट्ररीय अभियान में हिस्सा लिया। वह इस समूह की इकलौती महिला सदस्य थीं।

बात यहीं खतम नहीं हो जाती। रिकॉर्ड यह भी है कि International Dxpedition TI9KK, Costa Rica अभियान में यह पहली भारतीय नागरिक थीं। इस अनोखे रिकॉर्ड धारी, हैदराबाद निवासी युवती के अभियानों, रिकॉर्डों आदि की जानकारी यहाँ देखी जा सकती है। सुश्री एस यामिनी स्कूलों, इंजीनियरिंग कालेजों, आईआईटी के छात्रों को प्रशिक्षण देती हैं। शौकिया रेडियो पर सेमिनार का आयोजन भी करती हैं।

when_all_else_fails

अब क्या किया जाये? सोचते हुये पोस्ट लिखने बैठा तो वह तमाम प्रश्न सामने आ गये जो जिज्ञासुयों ने लिख भेजे थे ईमेल में। पहला प्रश्न तो यही था कि एक शौकिया रेडियो ऑपरेटर बनने के लिए क्या करना पड़ता है?

इसका जवाब कुछ इस तरह है कि यह दुनिया के उन गिने-चुने शौक में से एक है जिसके लिए सरकारी लाइसेंस की आवश्यकता पड़ती है। शौकिया रेडियो रखने व संचालित करने के लिये 12 वर्ष से अधिक की उम्र का कोई भी नागरिक मुख्यत: तीन विषयों I) Morse Code (Transmission & Reception) ii) Communication Procedure iii) Basic Electronics की परीक्षा में सफल होने के बाद लाइसेंस प्राप्त कर सकता है, जिसे भारत सरकार के सूचना मंत्रालयके अंतर्गत दूरसंचार विभाग के वायरलेस मॉनिटरिंग स्टेशन का प्रमुख अधिकारी जारी करता है।

परीक्षा में शामिल होने के लिए किसी शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता नहीं है। दो माह तक प्रतिदिन दो घंटे का प्रशिक्षण लेकर परीक्षा में शामिल हुया जा सकता है। स्वयं तैयारी कर के भी परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। लगभग प्रतिमाह होने वाली परीक्षा की फीस विभिन्न लाईसेंस के अनुसार 10 से 25 रूपये है। आवेदन पत्र यहाँ से डाउनलोड किया जा सकता है।

old-hams-call-sign-bspabla

Call Sign के उदाहरण

Call Sign, एक शौकिया रेडियो ऑपरेटर की पहचान होता है। जिसके पहले अक्षर संबंधित देश को प्रदर्शित करते है और इसे International Telecommunications Union द्वारा जारी किया जाता है।

हालांकि किसी खास घटनाक्रम के चलते किसी विशेष अक्षर का भी प्रयोग होता है ताकि उससे जुड़े रेडियो स्टेशनों की पहचान तुरंत हो सके। इन सब विशेषाधिकारों के कारण इन हैम को कुछ कार्य निषिद्ध भी हैं, जैसे कि:

1. वे अपने रेडियो का उपयोग कर धन नहीं कमायेंगे। (आखिर यह एक शौक है)

2. वे अपने रेडियो का उपयोग जनता के लिये किसी प्रसारण हेतु नहीं कर सकते। यह मात्र एक ऑपरेटर को दूसरे ऑपरेटर से वार्तालाप के लिए है। संगीत या अन्य कार्यों के लिए नहीं

कुछ अधिक जानकारी इस सरकारी वेबसाईट पर मिल सकेगी। कुछेक जानकारीपरक वेबसाईट्स हैं:

  • हैम रेडियो पर एक भारतीय व्यवसायिक वेबसाईट http://www.hamradioindia.org/
  • आईआईटी कानपुर के सहयोग से सरकारी वेबसाईट http://www.vigyanprasar.gov.in/ham/hamnew.asp
  • हैम रेडियो पर केरल की वेबसाईट http://www.naturemagics.com/ham-radio/ham-radio.shtm
  • शौकिया रेडियो ऑपरेटरों के लिए एक भारतीय वेबसाईट http://www.indiahams.com/
  • भारतीय हैम रेडियो ऑपरेटरों के लिए वेबसाईट http://www.hamradioindia.com/
  • हैम रेडियो इंडिया की वेबसाईट http://www.hamradioindia.net/
  • अमैच्योर रेडियो सोसायटी ऑफ इंडिया की वेबसाईट http://www.arsi.info/
  • भारतीय शौकिया रेडियो ऑपरेटर पर विकिपीडिया पृष्ठ http://en.wikipedia.org/wiki/Amateur_radio_in_India
  • विकिपीडिया पर शौकिया रेडियो संबंधित पत्रिकायों की सूची http://en.wikipedia.org/wiki/List_of_amateur_radio_magazines

भारत कुछ चर्चित व्यक्तियों के call signनीचे दिये जा रहे हैं , जिनसे सीधी बात की जा सकती है

  • सोनिया गांधी VU2SON
  • प्रियंका गांधी VU2PGY
  • अमिताभ बच्चन VU2AMY
  • कल्पना चावला KD5ESI
  • दयानिधि मारन VU2DMK
  • कमल हसन VU2HAS
  • कुमार बंगारप्पा VU3KMV

दुनिया के प्रभावशाली कुछ व्यक्तियों की सूची यहाँ , यहाँ तथा यहाँ देखें

यह विधा इतनी मह्त्वपूर्ण व उपयोगी है कि देश की प्रतिष्ठित लालबहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी, मसूरी में हैम रेडियो के लिए अलग क्लब बना हुया है। जिसमें इसकी बारीकियों के लिए प्रशिक्षण भी दिया जाता है।

एक बात याद की जाये तो भारत के प्रधानमंत्री रहे स्वर्गीय राजीव गांधी, अपने मारे जाने के चंद घंटो पहले भी ‘ऑन एयर’ थे तथा उनकी आखिरी ‘कॉल’ विशाखापत्तन्नम से थी। 1994 में राजीव गांधी फाऊँडेशन के सहयोग से नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ अमैच्योर रेडियो ने राजीव गांधी फाँऊडेशन अमैच्योर रेडियो क्लब की स्थापना की थी जिसे राजीव गांधी का Call Sign, VU2RG दे दिया गया।

इस पोस्ट के लिखे जाते हुये मैंने भारत के लगभग हर छोटे-बड़े शहर में शौकिया रेडियो ऑपरेटर की तलाश की तो पाया कि लगभग हर शहर में कोई ना कोई मौज़ूद है, जो अपने रेडियो से दुनिया भर में नये मित्र बनाता जा रहा है, बतिया रहा है और घोर विपत्ति के समय अपने इस शौक की बदौलत, बचाव कार्यों में सहायता भी दे रहा है।

जैसे भिलाई में VU2TLY, मेरठ में VU3KSG, रांची में VU2GBQ, धनबाद में VU2VLX, कानपुर में VU3WIX, बोकारो में VU3BTP, रोहतक में VU2BSB, नासिक में VU3PAQ, उज्जैन में VU3AAL, कोटा में VU2DPK, जयपुर में VU2EMZ , भोपाल में VU2HCZ , आगरा में VU2BX , ठाणे में VU2ATV, नागपुर में VU2SJA, विशाखापतनम में VU3RJY, लहरपुर में VU3AUT!

क्या पता, अगली बार जब तलाशा जाये तो आपके शहर से आपका call sign व नाम दिखे !

लेकिन अब उम्मीद है कि युनूस जी मुस्कुरा रहे होंगे।

HAM रेडियो और लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड
5 (100%) 1 vote
Print Friendly, PDF & Email

मेरी वेबसाइट से कुछ और ...

HAM रेडियो और लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड” पर 15 टिप्पणियाँ

  1. और डांट लगानी पड़ेगी ।
    इतना सारा हैम रेडियो के बारे में लिखते हैं और खुद हैम-ऑपरेटर नहीं हैं ।
    बहुत नाइंसाफी है जी ।

  2. अद्भुत पोस्ट ..पाबला जी …संग्रहनीय..दोबारा पढूंगा अभी तो….

  3. अच्‍छी जानकारी
    निराली पोस्‍ट
    मतवाले हम
    मतवाले तुम।

  4. ज्ञानदार और शानदार पोस्ट! और देखो ये यूनुस जी फिर डाँट लगा कर कैसे मुस्कुरा रहे हैं? पर अजय झा जी को क्या हुआ ये इतने उदास क्यों हैं? यूनुस जी से कह कर इन्हें भी डाँट लगवानी पड़ेगी जिस से ये अपनी प्रोफाइल में कोई मुस्कुराता फोटो डालें। अविनाश तो मतवाले हैं। उन का क्या कहना पर चित्र में वे भी गुस्साए लग रहे हैं।
    चलो कोई कोटा में भी है हेमरेडियो वाला। मुझे बहुत गर्व हुआ।

  5. सरकारी साइट – जो कोट की आपने – वह उतनी ही चिरकुट है, जितनी सरकारी साइट होनी चाहिये! 🙂

  6. एक बहुत सुंदर जानकारी दी आप ने जल्द ही एक रेडियो स्टेशन ( इन्तर्नेट पर) मै भी खोलने की सोच रहा हुं, अगर कुछ जानकारी दे तो मेहरबानी होगी.
    धन्यवाद

  7. बहुत अच्छी जानकारी दी पाबला जी,
    हमको भी ये शौक लगा था १९९३ मे और उसी साल खतम भी हो गया, कल पुर्जे कि तुरत अनुपलब्ध्ता के कारण 🙁

  8. पाबला जी दोबारा पढा है इस पूरी पोस्ट को..मुझे तो इसकी बारे में आज तक नहीं पता था..ना ही आज से पहले कभी बीबीसी..वी ओ ई..रडियो जापान और रडियो दोइचेवेले में कभी भी कुछ भी सुना ..और मुझे लगता है की अपने यहाँ इसको जानने वाले ..आप जैसे ज्ञाता ही होंगे..अब आगे भी भी बताते रहिये..सब स्टेशन खोल लेंगे…वाह वाह…

    • हौसला अफजाई के लिए शुक्रिया राज जी 🙂

      चित्र गूगल की शरारत के कारण नहीं दिख रहे जल्द ही इन्हें बदलता हूँ

इस लेख पर कुछ टिप्पणी करें, प्रतिक्रिया दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *


टिप्पणीकर्ता की ताज़ा ब्लॉग पोस्ट दिखाएँ
Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
[+] Zaazu Emoticons