दिल्ली की डॉलफिन, पंजाब के किन्नू और ठण्ड के मज़े

कड़कड़ाती ठण्ड में, भिलाई से चल कर दिल्ली होते हुए पंजाब की ओर की गई सड़क यात्रा का संस्मरण
Continue reading…

 

यमुना एक्सप्रेस वे पर फर्राटे भरे हमारी गाड़ी ने

आगरा – नॉएडा को जोड़ते द्रुतगामी यमुना एक्सप्रेस वे पर अपनी गाड़ी में की गई रोमांचक यात्रा का संस्मरण

Continue reading…

 

1984 – ए रोड स्टोरी

इस बार मई माह में गाँव जाना हुया एकदम अकेले. मार्च में चचेरी बहन के विवाह पर देश-विदेश से इकट्ठा हुए कुनबे वालों की गहमागहमी के बाद, मेरे सबसे छोटे चाचा का घर सुनसान पड़ा था. इधर, हमारे घर का ताला ही तब खुलता है जब भिलाई से कोई पारिवारिक सदस्य वहाँ पहुंचता है. अकेले […]
Continue reading…

 

लखनऊ सम्मान समारोह: यादें याद आती हैं

पिछले वर्ष अप्रैल में जब परिकल्पना – नुक्कड़ सम्मान समारोह दिल्ली में हुआ तो रात्रिभोज में रवीन्द्र जी को कहा था कि अगली बार भी ज़रूर बुलाईएगा, भले ही कोई सम्मान -वम्मान ना दें लेकिन तारीख ज़रूर बता दें, हम पहुच जायेंगे खुद ही! तब से गाहे बगाहे उनसे कहता ही रहा इस बात को. […]
Continue reading…

 

दिल्ली में दिखा भिलाई का एक ब्लॉगर: नीट ब्लॉगर मीट की संभावना

अभी अभी मिली खबर के मुताबिक भिलाई का एक ब्लॉगर, दिल्ली में देखा गया है। ऐसी सूचना पहले से थी कि वह सिर्फ ब्लॉगिंग के नाम पर इस बार दिल्ली पहुँच सकते हैं। किसी संभावित अनौपचारिक ब्लॉगर मीट के नीट होने के इंतजाम किए जाने की खबरें भी मिल रही हैं। अधिक जानकारी के लिए […]
Continue reading…