भाषा ऎसी चुंबकीय लिखें कि विज्ञापन दिखें

ऑनलाइन विज्ञापन कैसे खींचे जाएँ? इसके लिए भाषा नाम के की-वर्ड का उपयोग करते हुए लिखा गया रोचक लेख

  • Techgape

    आपकी रिसर्च से निकली महत्‍वपूर्ण जा...

  • केशव देव

    लेख काफी ज्ञान बर्धक है , यद्यपि एकाग...

जनमदिन के मौके पर हुई दो ब्लॉगरों से पहली मुलाक़ात

इस बार जनमदिन पर पोस्ट लिखना टलते चला आ रहा था क्योंकि सभी वेबसाईट्स के सर्वर बदले जा रहे थे और बिंदास तरीके से लिखने का समय ही नहीं मिला।…

  • शरद कोकास

    हमे सूचना मिली थी कि आपका जन्मदिन हो...

  • बी. एस. पाबला

    सर जी, शेयर्ड होस्टिंग होने से ऐसा अक...

ब्लॉगस्पॉट पर हिंदी लिखने की सुविधा समाप्त!?

आम तौर पर जब सुबह की चहलकदमी के लिए निकलता हूँ तो अपने सभी मोबाइल, कम्प्यूटर टेबल पर ही छोड़ जाता हूँ। आज सुबह जब मैक के साथ टहल कर…

ब्लॉगिंग में गर्व करने लायक कुछ है भी?

हिंदी ब्लॉगिंग में पांच वर्ष का समय बिताने के दौरान मेरा सामना ऐसे कई बयानों से हुआ कि यहाँ कुछ नहीं रखा हुआ, ऐरे गैरे आते हैं गालीगलौज बकवास कर…

एक क्लिक ने सारा ब्लॉग मिटा दिया

मेरे एक मित्र पिछले दिनों ब्लॉग से वेबसाईट पर स्थानांतरित हुए। नई तकनीक थी। जिद कर बैठे कि इसका सम्पूर्ण संचालन मुझे सौंप दें, कुछ प्रयोग करने हैं। कुछ गड़बड़…

  • कविता रावत

    ham bhi takneeki ke maamle mein bahut kuch nahi jaante, lekin logon kee baaten padhkar, sunkar ...

  • शरद कोकास

    हमें तो इतना पता है कि अमिताभ की तकनी...

ब्लॉगरो सावधान! गूगल ने असली लेखन को बढ़ावा देने अपने कोड बदलने शुरू किए

निश्चित तौर पर यह खबर उनके लिए बेहद निराशा ले कर आ रही है जो किसी अन्य के लेखन या खबर को आधार बना कर या ‘प्रेरणा’ ले कर अपने…

हिन्दी ब्लॉगिंग को समर्पित 11 वेबसाईट्स आ रही हैं 2011 में

पिछले वर्ष अनायास ही इतने पारिवारिक हादसे हुए कि तमाम योजनाएँ धरी की धरी रह गईं। अब पुन: स्फूर्ति आई है तो हिन्दी ब्लॉगिंग को केन्द्र में रख कर किए…

  • मीनाक्षी

    ढेरों शुभकामनाएँ... इंतज़ार है ......

  • padmsingh

    ढेर सारी उपयोगी जानकारी के लिये आभा...

ब्लॉग पढ़ने के लिए एग्रीगेटर तलाश रहे हैं आप? इधर देख लीजिए

मेरे बहुत से मित्र ऐसे हैं जो ब्लॉगिंग नहीं करते लेकिन ब्लॉग पढ़ते ज़रूर हैं। उन्हें ब्लॉग पढ़ने का चस्का या तो मैंने लगाया या फिर समाचारपत्रों में ब्लॉग रचनाएँ…

क्लिक किए जाने पर भी चित्र बड़ा नहीं दिखता! क्या किया जाए: अजय कुमार झा की दिक्कत

जिन दिनों अजय कुमार झा को टिप्पू सिंह बनाया जा रहा था उन दिनों वह बड़ी मासूमियत से पूछते रहते थे कि कुछ विशिष्ट ब्लॉगर उनको जबरन टिप्पू चाचा क्यों…

  • उद्गार

    मेरे पास कंप्यूटर नहीं है. मोबाइल पर ...

  • shikha varshney

    अरे वाह ये तो बड़े काम कि जानकारी है .....

ललित शर्मा की टाँगे खींच कर टंकी से उतारा गया: क्योंकि सीढ़ी वह साथ ले कर चढ़े थे :-)

उस दिन संगीता पुरी जी की वह पोस्ट पढ़ रहा था जिसमें उन्होंने बुद्धिजीवी ब्लॉगर भाइयों को प्रभावित करने में बुध ग्रह के एक प्रभाव की बात करते एक लेख…

  • भूतनाथ

    ha...ha....ha...ha...ha....ha...ise hi to kahate hain asli taang khichaayi....varnaa taang khic...

  • Ashok Pandey

    टांग खिचाई का उद्देश्‍य अच्‍छा है त...