भिलाई में फिर जमी ब्लॉगरों की महफिल: एक नए ब्लॉगर के साथ

नाईट शिफ्ट से आ कर दोपहर की नींद का मज़ा ही कुछ और है। उस दिन दोपहर के भोजन बाद धूप में कुछ देर आराम से बैठा ही था कि खुमारी छाने लगी। हवा में ठंडक तो थी ही। मोबाईल को वाईब्रेशन में रख लम्बी तान सो गया। आँखें खुली तो 5 बज चुके थे। […]
Continue reading…

 

छतीसगढ़ में ब्लॉगर सम्मेलन की संभावना के बीच एक छोटी सी ब्लॉगर मीट

पिछले दिनों कर्मनाशा वाले सिद्धेश्वर सिंह जी के साथ भिलाई में हुई मुलाकात का जिक्र जब खेलगढ़ वाले राजकुमार ग्वालानी जी ने पढ़ा तो उन्होंने फोन किया व उलाहना देते हुये कहा कि मुझे खबर कर देते तो दौड़ा चला आता रायपुर से। उन्हे वस्तुस्थिति बताते हुये दुबारा ऐसा न करने का वादा भी करना […]
Continue reading…